अगर आप करना चाहते है ताज का दीदार तो यह जरूर पढ़ें

by vaibhav

ताज के चाहने वालो के लिए सोमवार को ताज महल व आगरा का किला खोल दिया जाएगा। कोरोना महामारी के चलते छः माह बाद ताज का दीदार लोग कर पाएंगे। कोरोना महामारी के चलते ताज महल की सुरक्षा नीतियों में भी बहुत बदलाव किए गए है। सैलानियों की सुरक्षा जांच स्पर्श मुक्त तरीके से करेगी। किसी भी पर्यटक को छुआ नहीं जाएगा और मेटल डिटेक्टर के बाद हैंड हेल्ड मेटल डिटेक्टर से सुरक्षा जांच की जाएगी। ताज महल के पूर्वी और पश्चिमी गेट पर सीआईएसएफ बिना स्पर्श किए पर्यटकों की जांच करेगी l

लाइन में खड़े होकर नहीं लेनी होंगी टिकट

ताज महल समेत भारत के सभी स्मारकों में कोरोना महामारी के  चलते टिकट काउंटरों पर क्यूआर कोड स्कैन कर टिकट लेने की सुविधा प्रदान की है। इसके साथ ही आप वेबसाइट से ऑनलाइन टिकट की बुकिंग भी कर सकते है ।
इसके साथ अब टैक्सी व गाइड का पेमेंट भी भी ऑनलाइन करना होगा । इसलिए फोन पे, पेटीएम, गूगल पे समेत नेट बैंकिंग के विकल्पों को अपनाया गया है।

एक बार में केवल पांच लोग ही गुंबद के अंदर कर सकेंगे प्रवेश

ताज के अंदर बनी शाहजहां और मुमताज की कब्र वाले मुख्य गुंबद में प्रवेश के लिए एक बार में 5-5 पर्यटकों को अंदर जाने की इजाजत होगी। यमुना नदी के किनारे उत्तरी गेट से पर्यटकों को बाहर निकाला जाएगा।

आपको बता दे कि ताजमहल में प्रवेश के लिए भारतीय पर्यटकों के लिए 50 रुपये और विदेशियों के लिए 1100 रुपये का प्रवेश टिकट है लेकिन मुख्य गुंबद पर प्रवेश के लिए 200 रुपये का अतिरिक्त टिकट खरीदना होता है। ताजमहल की वेबसाइट पर ऑनलाइन टिकट खरीदने के लिए यह दोनों ही विकल्प मौजूद हैं। 

सैलानियों के लिए प्रवेश के ये हैं नियम
– पर्यटकों को मास्क और फेस कवर लगाना होगा।  
– प्रवेश देने से पहले थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी।   
– स्मारकों में प्रवेश, निकास के अलग रूट होंगे।  
– स्मारक में ग्रुप फोटोग्राफी की अनुमति नहीं होगी। 
– लाइसेंस धारक गाइड, फोटोग्राफर काम कर सकेंगे। 
– स्मारकों में प्रवेश ऑनलाइन ई-टिकट से मिलेगा। 
– पार्किंग समेत सभी भुगतान डिजिटल पेमेंट से। 
– स्मारक में खाने का सामान नहीं ले जा सकेंगे।

Related Posts