IIT Kanpur ने पी०एस०ए० तकनीक से लैस एक उन्नत ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर विकसित किया है जिसको वाणिज्यिक पैमाने तक पहुँचाने और जनता को लाभ पहुंचाने के लिए, बेंगलुरु स्थित कंपनी, एल्बोट टेक्नोलॉजीज प्राइवेट लिमिटेड को लाइसेंस दिया गया है। कोविड महामारी की तीसरी लहर की आशंका और ऑक्सीजन की पर्याप्त आपूर्ति बनाए रखने के लिए, IIT Kanpur के आविष्कारकों ने इस उन्नत ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर को विकसित किया और इसे “संजीवनी” नाम दिया, जिसका उद्देश्य पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करना और भविष्य में ऑक्सीजन संकट को रोकना है।

ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर 92% ± 3 की ऑक्सीजन शुद्धता के साथ 10 एलपीएम की प्रवाह दर पर काम करता है, कॉन्सेंट्रेटर में 1 से 10 एलपीएम की एक समायोज्य क्षमता होती है, जिसका उपयोग चिकित्सा के साथ-साथ व्यक्तिगत उपयोग दोनों के लिए किया जा सकता है।

इस ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर को मैकेनिकल इंजीनियरिंग विभाग के प्रो० जे०रामकुमार और उनके पीएचडी छात्र सिद्धांत श्रीवास्तव, सहयोगी जितेंद्र कुमार ,डॉ० अमनदीप सिंह ओबेरॉय, रूपेंद्र अर्याल और नितिन चौखट के साथ मिलकर विकसित किया गया है।

समारोह के दौरान आईआईटी कानपुर के निदेशक प्रो. अभय करंदीकर ने में संभावित परियोजनाओं के बारे में जानकारी दी, उन्होंने आईआईटी कानपुर में स्कूल ऑफ मेडिकल रिसर्च एंड टेक्नोलॉजी की चल रही प्रगति से भी अवगत कराया, जिसमें परिसर में 400 बेड का अस्पताल होगा, ऐसे स्कूल चिकित्सा को बढ़ावा देंगे और लागत प्रभावी चिकित्सा उपकरणों के लिए अग्रणी अनुसंधान में भी सहायक होंगे, आईआईटी कानपुर में इनोवेशन और इनक्यूबेशन के प्रभारी प्रोफेसर अमिताभ बंद्योपाध्याय ने उल्लेख किया कि आईआईटी कानपुर का इनक्यूबेटर यमुना एक्सप्रेस-वे विकास प्राधिकरण और कुछ अंतरराष्ट्रीय संस्थाओ के साथ मिलकर देश में चिकित्सा उपकरण विकास पारिस्थितिकी तंत्र में तेजी लाने के लिए कई हितधारकों के साथ सक्रिय रूप से काम कर रहा है।

दिनांक 17.08.2021 को आई०आई०टी० कानपुर और एल्बोट टेक्नोलॉजीज के साथ एक एम्०ओ०यू० का आदान-प्रदान समारोह का प्रारम्भ संस्थान के निदेशक प्रो०अभय करंदीकर और एल्बोट टेक्नोलॉजीज के सी०ई०ओ० श्री आकाश सिंह के संक्षिप्त परिचय के साथ हुआ। समारोह में प्रो० अमिताभ बंद्योपाध्याय, प्रो० ए०आर० हरीश (डीन, अनुसंधान एवं विकास, आईआईटी कानपुर) सिद्धांत, जीतेन्द्र, रूपेंद्र, डॉ० अमनदीप, नितिन और श्री रवि पांडेय सम्मिलित हुए ।