सीएसआईआर लैब की सात एकड़ जमीन पर अवैध कब्जा

नई दिल्ली- देश ही नहीं, दुनिया के शीर्ष वैज्ञानिक अनुसंधान संस्थानों में शुमार सीएसआईआर की भोपाल स्थित प्रयोगशाला एमप्री की सात एकड़ जमीन पर कई वर्षों से अवैध कब्जा है लेकिन स्थानीय प्रशासन जमीन को कब्जा मुक्त नहीं करा पा रहा है।

वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) की एक प्रयोगशाला एमप्री भोपाल में होशंगाबाद रोड पर स्थित है। वहां एडवांस मैटेरियल प्रोसेसिंग से संबंधित अनुसंधान किए जाते हैं। एमप्री के प्रशासनिक अधिकारी आरएन वाघमारे ने ‘यूनीवार्ता’ को बताया की प्रयोगशाला के पास 79 एकड़ जमीन है जिसमें सात एकड़ पर परमार समाज समिति ने अवैध कब्जा कर रखा है। वहां अनाधिकृत रूप से मैरिज हॉल बनाया गया है और वाणिज्यिक गतिविधियां की जा रही हैं।

उन्होंने बताया कि तहसीलदार कार्यालय ने 29 सितंबर 2015 को अवैध कब्जा हटाने का आदेश दिया था। इसके बाद संस्थान ने कई प्रयास किए लेकिन कब्जाधारी जमीन पर से हटने के लिए तैयार नहीं है।

ये भी पढ़ें- आईआईटी कानपुर के साथ मिलकर विश्व में धाक जमायेंगे MSME

देश में वैज्ञानिक अनुसंधानों को प्रमुखता देने की मोदी सरकार की प्रतिबद्धता के बावजूद मध्य प्रदेश की राजधानी में यह सब स्थानीय प्रशासन की नाक के नीचे हो रहा है।

अधिकारी आरएन वाघमारे ने कहा कि संस्थान की ओर से जिलाधिकारी, एसडीएम, नगर निगम आयुक्त और पुलिस प्रशासन से भी कई बार लिखित एवं मौखिक अनुरोध किया गया है। इसके बावजूद प्रशासन संस्थान की जमीन कब्जा मुक्त नहीं करा पा रही है।

इन्पुट- यूनीवार्ता