सुपौल :त्रिवेणीगंज थाना क्षेत्र के जागुर गाँव के वार्ड नम्बर 11 में ढाई कट्ठा जमीन को लेकर पिछले छह माह से चला आ रहा विवाद बुधवार को अचानक ही भयानक रूप ले लिया।बुधवार की सुबह तकरीबन नौ साढ़े नौ बजे दोनो पक्षों के बीच हुए जमीनी विवाद में जमकर मारपीट हुई।जिसमें दोनों पक्षों से महिला सहित कुल 14 लोग जख्मी हो गए।सभी जख्मी को त्रिवेणीगंज अनुमंडलीय अस्पताल लाया गया जहाँ तकरीबन डेढ़ घंटे तक कोई डॉक्टर इन घायलों को देखने नहीं आए।जख्मी महिला अस्पताल के ओटी में फर्श पर लेटी दर्द से कड़ाहती रही।जिसके बाद घायल औऱ इनके परिजनों ने जमकर हंगामा शुरू कर दिया।हंगामे को सुन ड्यूटी पर से गायब डॉक्टर डेढ़ घंटे बाद पहुँचे औऱ घायलों का ईलाज शुरू किया।इधर किसी ने हो रहे हंगामे की खबर स्थानीय पुलिस दे दिया।मौके पर पहुँची त्रिवेणीगंज पुलिस ने हंगामा कर रहे घायलों औऱ इनके परिजनों को शांत कराया।घायलों में आनंदी यादव
(45),सावित्री देवी (60),अनमोल यादव (50),समतोलिया देवी (41),रंजू देवी (45),चंदन कुमार (42),रंजय कुमार (32),अमित कुमार (21),नवीन कुमार (29) एवं दूसरे पक्ष के भोगेन्द्र यादव (55),बिरेन्द्र यादव (32),छोटेलाल यादव (31),धीरेंद्र यादव (30) औऱ कारी यादव (50) शामिल है।
अस्पताल में जख्मी के द्वारा किए जा रहे हंगामें के संबंध में जब ड्यूटी से गायब चिकित्सक डॉक्टर बिरेन्द्र दर्वे से पूछा गया तो अटपटा बयान देते हुए कहा कि हम अकेले हैं मात्र दो नर्स है 20 लोग घायल आए हैं बेबुनियाद आरोप है जो भी पूछना है जाके अस्पताल के प्रभारी से पूछिए।वहीं जमीनी विवाद के इस मामले में थानाध्यक्ष संदीप कुमार सिंह ने बताया कि दोनों पक्षों में किसी ने भी अब तक आवेदन नहीं दिया है आवेदन मिलते ही जांचोपरांत कार्यवाई की जाएगी।

रिपोर्ट:–संतोष कुमार,सुपौल