भारत और नीदरलैंड करेंगे जल पर रणनीतिक साझेदारी

नयी दिल्ली- भारत और नीदरलैंड जल से संबंधित क्षेत्र में अपने सहयोग को मजबूत बनाने के लिए “पानी पर रणनीतिक साझेदारी” का प्रबंधन करेंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आभासी तरीके से शुक्रवार को नीदरलैंड के प्रधानमंत्री मार्क रूटे से साथ बात की और इस दौरान दोनों नेता व्यापार और अर्थव्यवस्था, कृषि, स्मार्ट शहर, विज्ञान तथा प्रौद्योगिकी, स्वास्थ्य और अंतरिक्ष जैसे क्षेत्रों में विविधता लाने और विस्तार करने पर सहमत हुए।

विदेश मंत्रालय की ओर से जारी बयान में बताया गया कि दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय संबंध के पूरे स्पेक्ट्रम की विस्तृत समीक्षा की और जल से संबंधित क्षेत्र में भारत-डच सहयोग को और प्रगाढ़ करने तथा जल पर संयुक्त कार्यदल को मंत्रिस्तर तक बढ़ाने के लिए एक रणनीतिक साझेदारी ’स्थापित करने पर सहमति व्यक्त की।

ये भी पढ़ें- भारत और मॉरिशस के बीच आर्थिक सहयोग और साझेदारी के समझौते को मंत्रीमंडल की मंजूरी

साथ ही दोनों नेताओं ने इस दौरान, जलवायु परिवर्तन, आतंकवाद का खात्मा और कोविड -19 महामारी जैसी क्षेत्रीय और वैश्विक चुनौतियों पर भी विचारों का आदान-प्रदान किया तथा भारत-प्रशांत, लचीला आपूर्ति चेन और वैश्विक आर्थिक प्रशासन जैसे नए क्षेत्रों में उभरते अभिसरणों का लाभ उठाने पर सहमति व्यक्त की।

कोविड काल के बाद की स्थिति का उल्लेख करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “मुझे पूरा विश्वास है कि कोविड के बाद की दुनिया में कुछ अवसर सामने आएंगे, जहां हमारे जैसे समान विचारों वाले देश द्विपक्षीय सहयोग का निर्माण कर सकते हैं।”

इन्पुट- यूनीवार्ता