नई दिल्ली : एक तरफ तो वैश्विक महामारी के चलते लोग परेशान हैं दूसरी तरफ देश में वाहनों की रफ्तार के जैसे महंगाई बढ़ रही है। विदेशों में खाद्य तेलों में बड़ी गिरावट के बीच बीते सप्ताह दिल्ली थोक जिंस बाजार में भी इनके भाव टूट गये। तेलों के साथ अनाजों में भी साप्ताहिक गिरावट रही जबकि गुड़ मजबूत हुआ। दालों की कीमतों में उतार-चढ़ाव देखा गया।

तेल तिलहन : वैश्विक स्तर पर मलेशिया के बुरसा मलेशिया डेरिवेटिव एक्सचेंज में पाम ऑयल का अगस्त वायदा समीक्षाधीन सप्ताह के दौरान 248 रिंगिट टूटकर 3,415 रिंगिट प्रति टन पर आ गया। जुलाई का अमेरिकी सोया तेल वायदा भी 8.60 सेंट लुढ़ककर सप्ताहांत पर 58.36 सेंट प्रति पाउंड बोला गया।

स्थानीय बाजार में आवक बढ़ने से सरसों तेल 293 रुपये, वनस्पति 147 रुपये, पाम ऑयल तथा सोया तेल 146-146 रुपये और मूँगफली तेल 74 रुपये प्रति क्विंटल लुढ़क गया। सूरजमुखी के भाव में कोई बदलाव नहीं हुआ।

सप्ताहांत पर सरसों तेल 17,289 रुपये, मूंगफली तेल 19,413 रुपये, सूरजमुखी तेल 19,193 रुपये, सोया रिफाइंड 15,311 रुपये, पाम ऑयल 12,308 रुपये और वनस्पति तेल 13,479 रुपये प्रति क्विंटल पर रहा।

वार्ता