बीकानेर(राजस्थान):- परिवार अनमोल होता है। और इसकी रिश्ते बड़े नाजुक होते हैं। सास बहू का षड्यंत्र आपने टीवी में आते बहुत बार देखा होगा। किस सास बहू के खिलाफ षड्यंत्र रच रही है तो कहीं बहू सास के खिलाफ। लेकिन आज हम जो सास बहू की कहानी आपको बताएंगे तो सुनकर आपके पैरों तले जमीन खिसक जाएगी। कलयुगी बहू ने अपनी नाबालिक बेटी के साथ मिलकर सास के खिलाफ जो षड्यंत्र रचा उसे जिसने सुना वह दंग रह गया।

मामला है राजस्थान के बीकानेर जनपद का जहां एक कलयुगी की बहू ने अपना काला दिमाग अपनी वृद्ध सास के ऊपर ही चला दिया। पति मां की चिंता बहुत ज्यादा करता था और वृद्ध मां का ध्यान रखता था। जो बात बहू को नागा बार गुजरती थी। वकील बेटे ने अपनी मां की हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई पुलिस ने तफ्तीश की उसके बाद जो खुलासा हुआ तो बेटे के पैरों तले जमीन खिसक गई। और मुंह से कुछ यूं निकला है ‘अब हम क्या करें’ आपको बता दें कि छोटे बेटे को 50 रूपय देने से नाराज बड़ी बहू यानी की रिपोर्ट दर्ज कराने वाले वकील की पत्नी ने ही अपनी नाबालिग बेटी के साथ मिलकर सास को मौत के घाट उतार दिया था।

घटना की जानकारी देते हुए बुधवार को अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) सुनील कुमार और नोखा थानाधिकारी अरविन्द सिंह ने मामले का खुलासा किया।

मृतका चंद्र कंवर के दो बेटे हैं। बड़ा टीकमचंद और छोटा किशोर सिंह। 13 फरवरी को सुबह चंद्र कंवर की लाश उसकी ढाणी में बनी झोपड़ी में मिली थी। बड़ा बेटा टीकमचंद मौके पर पहुंचा। पुलिस को सूचना दी। FIR दर्ज करा कर जांच की मांग की। 20 दिन से पुलिस मामले की छानबीन में जुटी रही। साइबर सेल की टीम ने परिवार का मोबाइल लोकेशन खंगाला। टीकमचंद की पत्नी संतोष कंवर और उसकी नाबालिग बेटी का मोबाइल लोकेशन ढाणी गांव की रोड पर मिला। जहां पर हत्या हुई थी ठीक वहीं पर लोकेशन मिलने से पुलिस का शक बढ़ गया। पुलिस ने सख्ती के साथ उससे पूछताछ की तो मां और बेटी जुर्म कबूल कर दिया। संतोष कंवर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और नाबालिग बेटी को नारी निकेतन भेजा गया है।

मिली जानकारी के अनुसार आपको बता दें कि वृद्ध महिला की हत्या बहुत ही निर्मम तरह से की गई थी। जब बड़ी बहू को पता चला कि उसकी सास ने छोटे बेटे को 2 दिन पहले 50 रूपए दिए हैं। जिससे बड़ी बहू को गुस्सा आ गया और उसने अपनी सास को मारने का षड्यंत्र बना लिया। 12 फरवरी की रात बड़ी बहू अपनी नाबालिग बेटी के साथ मिलकर घर से करीब 4 किलोमीटर दूर ढाणी पहुंची। सास को देखते ही उस पर मूसल से सिर पर वार किया। इतने वार किए कि वृद्ध सास ने दम तोड़ दिया। रात को ही मां और बेटी वापस अपने घर आ गई। इस दौरान उनके पास अपना मोबाइल था, जिसकी जांच करने पर पुलिस को लोकेशन दावां गांव पर लगे टॉवर पर मिला। पुलिस ने जब सख्ती से पूछताछ की तो फिर बहू ने अपना जुर्म कबूल लिया।

रिपोर्ट :- हेमंत अग्रवाल

राजस्थान ब्यूरो