कानपुर। तेजी से बढ़ रहे आर्टीफीशियल इंटेलिजेंश तकनीकी को अब केस्कों ने भी आत्मसात कर लिया है। जल्द ही केस्को के सबस्टेशन मानवरहित होंगे व सभी शिकायतों का निपटारा कम्प्यूटर द्वारा किया जायेगा। आज केस्को के नये एमडी अनिल डींगरा ने पत्रकार वार्ता के दौरान जानकारी देते हुए यह बात कही।

पहले चरण में 14 सबस्टेशन होगे आॅटोमेटिक

केस्को एमडी ने जानकारी देते हुए बताया कि आॅटोमेशन के पहले चरण के दौरान नवाबगंज, फूलबाग एवं बिजलीघर डीवीजन के 14 सबस्टेशनों को आॅटोमेटिक किया जायेगा। फिलहाल 1 जनवरी 2022 तक इस कार्य के पूरा होने की उम्मीद की जा रही है।

सिर्फ फॉल्ट वाले क्षेत्र में होगी बिजली कटौती

आॅटोमेशन के फायदे बताते हुए उन्होंने कहा कि नई तकनीकि से उपभोक्ताओं को सहूलियत मिलेगी। आॅटोमेशन के बाद से अगर किसी लाइन में फाल्ट होता है तो इसकी सूचना तुरंत ही हेडआॅफिस पहुॅच जायेगी जिससे तुरंत फाल्ट ठीक की जा सके और सिर्फ उतने ही प्रभावित एरिया की बिजली काटी जायेगी, जबकि अभी पूरे क्षेत्र का फीडर बंद करन पड़ता है।

गुणवत्ता सुधारने पर होगा काम, गर्मीयों के लिए विशेष तैयारियाँ

केस्को एमडी ने आने वाले गर्मियों के मौसम में निर्बाध बिजली आपूर्ति की तैयारी की जानकारी देते हुए बताया कि गर्मियों में बिजली की ज्यादा मांग को देखते हुए विभाग ने सभी तैयारियों को पूरा कर लिया है। इसके साथ ही फाल्ट के दौरान खराब होने वाले उपकरणों को तुरंत बदलने के लिए भी बैकअप उपलब्ध है।

इसके साथ ही उन्होंने बताया कि ऐसे क्षेत्रों की पहचान की गई है जहाँ लाइन लॉस 40 प्रतिशत या उससे अधिक है, ऐसे क्षेत्रों में भूमिगत लाइन बिछाकर वहाँ के लाइनलॉस को भी कवर किया जायेगा।

ALSO Read : किसानों को मोबाइल फोन पर ही फसलों की अधिकतम कीमत की मिलेगी जानकारी

ग्राहक सेवा के मुद्दे पर बोलते हुए उन्होंने कहाकि ग्रा​हकों की शिकायत के लिए टोल फ्री नंबर 1800 180 1912 , व्हाट्सएप नंबर 9838811385 पहले से काम कर रहे है। इसके अलावा उपभोक्ता ट्वीटर पर भी अपनी बात रख सकते है। उन्होंने बताया कि अभी केस्को B+ ग्रेड में है , हमारा लक्ष्य इसे A ग्रेड तक ले जाने का है।