कानपुर: वैश्विक महामारी के चलते आम आदमी की आर्थिक स्थिति काफी प्रभावित हुई है। दूसरी ओर सरकार द्वारा पेट्रोल डीजल एवं गैस के दामों में निरंतर वृद्धि के कारण जनता में त्राहि-त्राहि की स्थिति उत्पन्न हो गई है। इसी को लेकर प्रदेश महासचिव के नेतृत्व में LJP (लोक जनशक्ति पार्टी) उत्तर प्रदेश के सभी जिलों में जिला अध्यक्ष द्वारा राष्ट्रपति को ज्ञापन भेजे गए।

लोजपा के ज्ञापन में पेट्रोल- डीजल एवं गैस वस्तुओं को जीएसटी के दायरे में लाने, केंद्र एवं राज्य सरकारों द्वारा उक्त वस्तुओं पर लगे हुए करो में कमी लाये जाने, सरकार द्वारा उज्जवला योजना के अंतर्गत गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वाले गरीब परिवारों को वितरित किए गए गैस कनेक्शन मिलने के बावजूद गैस लेने में असमर्थता पर गुस्सा जताते हुए कहा गया कि गरीब महिलाओं द्वारा गैस में भारी वृद्धि होने के कारण गैस ना लेकर सिलेंडर बाजार में बेचा जा रहा है।

महंगाई हुई भौजाई , अब सिलेंडर कहां गया

खाद्य तेल, दलहन तथा अन्य खाद्य सामग्रियों के दामों में नियंत्रित करने और पेट्रोल डीजल एवं गैस के दामों में निरंतर हो रही वृद्धि पर अंकुश लगाने की मांग ज्ञापन में की गई है। इस दौरान प्रदेश महासचिव अनिल यादव ,प्रदेश उपाध्यक्ष हाजी अबरार जिलाध्यक्ष कृष्ण कुमार (किशन सिंह), महिला जिला अध्यक्ष श्रीमती सोनी गुप्ता ,सतीश चौरसिया ,युवा प्रकोष्ठ जिला अध्यक्ष सचिन गुप्ता, मीडिया प्रभारी राकेश राठौर जिला उपाध्यक्ष,शशि गौड़ ममता शर्मा, मोनिका सविता, कल्पना अग्निहोत्री,रंजीत तौहीद अहमद जिला उपाध्यक्ष नासिर आदि लोग उपस्थित थे।