काठमांडू : नेपाल में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच काठमांडू घाटी में अधिकारियों ने लॉकडाउन को सात दिन तक बढ़ाने का फैसला किया है। घाटी के काठमांडू, भक्तपुर और ललितपुर जिला प्रशासन ने संयुक्त रूप से निर्णय लिया है कि पिछले हफ्तों में किए गए प्रतिबंधात्मक उपायों में लगभग सभी छूटों को जारी रखते हुए लॉकडाउन की अवधि गुरुवार से 11 अगस्त तक एक बार फिर बढ़ा दी गयी है। नये नियमों के तहत, पिछले निर्णय को पलटते हुए सेमिनार या प्रशिक्षण कार्यक्रमों पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। पहले अधिकतम 25 लोगों की उपस्थिति के साथ ऐसी गतिविधियों की अनुमति थी।

काठमांडू के मुख्य जिला अधिकारी काली प्रसाद परजुली ने शिन्हुआ को बताया, “हमने लॉकडाउन बढ़ाया, लेकिन कोविड ​​​​-19 मामलों में हालिया वृद्धि के बावजूद प्रतिबंधों में ज्यादा वृद्धि नहीं की। हमने निषेधाज्ञा के उल्लंघन के खिलाफ सतर्कता बढ़ा दी है और मंगलवार से निषेधाज्ञा को सख्ती से लागू करने के लिए कदम उठाये हैं।”

गौरतलब है कि काठमांडू घाटी और नेपाल के कई हिस्सों में अप्रैल के अंत में कोरोना वायरस की दूसरी लहर को नियंत्रित करने के लिए लॉकडाउन लगाया गया था, और वर्तमान लॉकडाउन बुधवार आधी रात तक जारी है। परजुली ने कहा, “लोगों को भी वैक्सीन लेने के लिए कतार में लगना चाहिए और हमें इस तरह से कार्य नहीं करना चाहिए जिससे टीकाकरण अभियान प्रभावित हो।”

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि नेपाल में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 2,448 नये मामले सामने आये और 24 मौतें हुई हैं। इसके साथ ही देश में संक्रमितों की कुल संख्या 7,02,097 और मरने वालों की संख्या 9,922 हो गयी है।