सुपौल : जिला मुख्यालय स्थित समाहरणालय परिसर में स्थित टीसीपी भवन बिहार सरकार के जल संसाधन विभाग के मंत्री संजय कुमार झा की अध्यक्षता में आपदा से प्रभावित स्थिति को लेकर समीक्षात्मक बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में सर्वप्रथम अपर समाहर्ता सुपौल द्वारा श्री संजय कुमार झा,मंत्री जल संसाधन विभाग एवं सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग,बिहार सह माननीय प्रभारी मंत्री,सुपौल जिले के अन्य माननीय एवं सभी पदाधिकारीगण का स्वागत किया गया।जिसके बाद मंत्री की अनुमति से आपदा से प्रभावित अद्यतन स्थिति की समीक्षा प्रारंभ की गई।गृह कटनियों,खरीफ 2021 में बाढ-अतिवृष्टि से हुई फसल क्षति के साथ ही उन्होंने लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण एवं पशुओं के टीकाकरण हेतु दिशा निर्देश भी दिए।बैठक की अध्यक्षता कर रहे मंत्री संजय कुमार झा ने बताया कि बाढ़ से प्रभावित कोई भी व्यक्ति छूटे नहीं,इस हेतु इसका पुनः आंकलन करें। इस संदर्भ में माननीय मुख्यमंत्री का कहना है कि सरकार के खजाना पर पहला हक आपदा से प्रभावितों का है।फसल क्षति एवं गृह क्षति वालों का सही सही आकलन कर समय पर मुआवजा का भुगतान किये जाने का निर्देश भी दिया गया।जिला कृषि पदाधिकारी को पुनः एक सप्ताह के अन्दर फसल क्षति का आकलन कर प्रतिवेदन समर्पित करने का भी निर्देश दिया गया।बाढ़ के बाद सभी क्षतिग्रस्त पथों को शीघ्र पूर्ण कराने का निर्देश सभी संबंधित कार्यपालक अभियंता को दिया गया।बलभद्रपुर में क्षतिग्रस्त पूल की मरम्मति तीन दिनों के अन्दर पूर्ण कर उसका छायाचित्र उपलब्ध कराने का निदेश कार्यपालक अभियंता,ग्रामीण कार्य प्रमंडल. वीरपुर को दिया गया।मुख्य अभियंता,बाढ़ नियंत्रण एवं जल निस्सरण,जल संसाधन विभाग वीरपुर को फिजिकल मॉडलिंग सेंटर का निर्माण कार्य को ससमय पूर्ण कराने का निर्देश दिया गया.चूंकि यह देश का दूसरा फिजिकल मॉडलिंग सेंटर होगा जहाँ अन्य राज्य भी लाभान्वित होंगे.सिविल सर्जन सुपौल को अधिक से अधिक लोगों की कोविड जाँच सुनिश्चित कराने को कहा गया। साथ ही सभी अस्पताल में सांप की भी दवाई की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने को कहा गया। चूंकि बाढ़ के समय में इसका प्रकोप कुछ ज्यादा ही होने की संभावना रहती है। मंत्री ने कहा कि बाढ़ आपदा एवं कोविड-19 में सुपौल जिला में बेहतर कार्य हुए हैं एवं जिला प्रशासन के कार्य से वे प्रभावित भी हुए हैं। वास्तव में जिला प्रशासन ने बेहतर कार्य किया है और सभी पदाधिकारी इसके लिए बधाई के पात्र हैं।

रिपोर्ट:–संतोष कुमार,सुपौल