मिशन शक्ति अभियान का एल0ई0डी0 वैन को हरी झण्डी दिखाकर मंत्री ने किया रवाना

by abhishek

कौशाम्बी जनपद के प्रभारी मंत्री चन्द्रिका प्रसाद उपाध्याय ने शनिवार को कलेक्ट्रेट स्थित सम्राट उदयन सभागार में आयोजित महिला कल्याण तथा बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग के सम्मिलित प्रयास मिशन शक्ति, नारी सुरक्षा एवं सम्मान कार्यक्रम का द्वीप प्रज्ज्वलन कर शुभारम्भ किया। प्रभारी मंत्री ने महिलाओं एवं बालिकाओं की सुरक्षा सम्मान व स्वावलम्बी बनाने, जन जगारूकता पैदा करने, आत्मसुरक्षा की कला हेतु प्रशिक्षित करने के लिए विशेष अभियान संचालित किये जाने के सम्बन्ध में एल0ई0डी0 वैन को जनपद के समस्त विकास खण्डों, ग्रामों में जन जागरूकता हेतु हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया।

उन्होंने कहा कि मिशन शक्ति कार्यक्रम अत्यन्त महत्वपूर्ण है, इसे सर्वोच्च प्राथमिकता दी जाये, इस सम्बन्ध में विस्तृत कार्ययोजना जारी की गयी है। मुख्यमंत्री के द्वारा मिशन शक्ति अभियान का शुभारम्भ आज हुआ है वह अगले छः महीने तक चरणबद्ध रूप से चलता रहेगा। उन्होंने कहा कि मिशन शक्ति का उद्देश्य लोगो को जागरूक करना है। समाज के चिंतन को बदलने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि सभी लोगो को नारी सुरक्षा, नारी सम्मान और नारी स्वावलम्बन को बढ़ाने के लिए पूर्ण प्रयास करना चाहिए। उन्होंने कहा कि लैंगिंक समानता के बारे में लोगो को जागरूक करें। समाज को नई दिशा दें, नई पीढ़ी को भावों से भरें।

महिलाओं एवं बच्चों की सुरक्षा से सम्बन्धित कानूनों, पाक्सो एक्ट, घरेलू हिंसा अधिनियम एवं महिला सम्बन्धी कानूनों व प्रावधानों का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाये।

महिलाओं तथा बच्चों की सुरक्षा व अपराधों की रोकथाम, हिंसा के प्रकरण में दण्ड के प्रावधानों के सम्बन्ध में जागरूकता, हेतु सम्बन्धित हेल्पलाइन नम्बर, 1090, 1098, 112, 181, 108, 102 तथा कल्याणकारी योजनाओं व सुविधाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाये। जिले की महिला नोडल अधिकारी, आर्यका अखौरी, आई0ए0एस0 विशेष सचिव माध्यमिक शिक्षा विभाग, उ0 प्र0 ने कार्यक्रम में उपस्थित महिलाओं एवं बालिकाओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि 17 अक्टूबर से 25 अक्टूबर तक मिशन शक्ति नारी सुरक्षा नारी सम्मान का विशेष अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने महिलाओं एवं बालिकाओं से कहा कि अपने अन्दर जो शक्ति है उसको जागरूक करें, महिलाओं के लिए महिला हेल्पडेस्क हर थाने में शुरू किया जाये।

रिपोर्ट श्रीकान्त यादव

Related Posts