नायडू ने बढ़ते आतंकवाद पर चिंता व्यक्त की

by mansi

नई दिल्ली। उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने वैश्विक समुदाय से आतंकवाद का समर्थन करने वाले देशों को अलग-थलग करने का आह्वान करते हुए कहा है कि इनके खिलाफ सख्त प्रतिबंध लगाये जाने चाहिए।

नायडू शनिवार को आतंकवाद की बढ़ती घटनाओं पर चिंता व्यक्त करते हुए संयुक्त राष्ट्र से भारत द्वारा प्रस्तावित ‘आतंकवाद के विरुद्ध अंतरराष्ट्रीय समझौते ‘ पर शीघ्र बातचीत खत्म करने और इसे स्वीकार करने की अपील की।उन्होंने कहा कि कोई भी देश आतंकवाद की विभीषिका से अछूता नहीं है। अब निंदा करने के दिन समाप्त हो गए हैं और आतंकवाद के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए।

ये भी पढ़ें- भारत अमेरिका के बीच हुए नया रक्षा समझौता, दुश्मन देशों की उड़ी नींद

उन्होंने कहा कि विश्व अवस्था को समानता आधारित और समग्र बनाने के लिए संयुक्त राष्ट्र में भी सुधार करने की आवश्यकता है।

उपराष्ट्रपति ने लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय उत्कृष्टता पुरस्कार 2020 इंफोसिस फाउंडेशन की अध्यक्ष सुधा मूर्ति को प्रदान करते हुए कहा कि दक्षिण एशिया क्षेत्र में शांति स्थापना, गरीबी उन्मूलन , आम जनता की सामाजिक – आर्थिक दशा सुधारने और आतंकवाद के खात्मे के लिए एक साथ आना चाहिए।

इन्पुट- यूनीवार्ता

Related Posts