नैनीताल: कोरोना महामारी के बढ़ते मामलों को देखते हुए नैनीताल हाईकोर्ट आने वाले तीन कार्य दिवसों में बंद रहेगा। आगामी 19 अप्रैल से अदालतों में भौतिक सुनवाई भी नहीं होगी। सिर्फ वीडियो कान्फ्रेसिंग से सुनवाई हो सकेगी।

रजिस्ट्रार जनरल धनंजय चतुर्वेदी की ओर से सोमवार को जारी अधिसूचना के अनुसार उच्च न्यायालय के समस्त परिसर को सेनिटाइजेशन के मद्देनजर आगामी 13, 15 और 16 अप्रैल को बंद रखने का निर्णय लिया गया है। बाकी दिन अवकाश के चलते उच्च न्यायालय बंद है।

सर्वोच्च न्यायालय का आदेश, सुबह 6 बजे तक नहीं बजेंगे लाउडस्पीकर

अधिसूचना के अनुसार कोरोना महामारी के बढ़ते मामलों को देखते हुए उच्च न्यायालय के पूरे परिसर व अधिवक्ताओं के चेम्बर को भी सेनिटाइज करने का निर्णय लिया गया है। आने वाले दिनों में भी अदालतों में भौतिक रूप से होने वाली सुनवाई को बंद कर दिया गया है। अगले आदेशों तक वीडियो कान्फ्रेसिंग से सुनवाई हो सकेगी।

बार एसोसिएशन के चुनावों पर भी पड़ा था असर

कोरोना के चलते सोमवार को हाईकोर्ट बार एसोसिएशन के नव निर्वाचित पदाधिकारियों का शपथ ग्रहण समारोह नितांत सादगी से सम्पन्न हुआ। गत शुक्रवार को हाईकोर्ट बार के चुनाव सम्पन्न हुए थे और शनिवार को परिणाम घोषित किये गये थे। आज शपथ ग्रहण समारोह होना था लेकिन मुख्य चुनाव अधिकारी अधिवक्ता रवीन्द्र बिष्ट के कोरोना संक्रमित पाये जाने के कारण भव्य समारोह नहीं हो पाया। एआरओ अनिल जोशी की ओर से नव निर्वाचित पदाधिकारियों को पद एंव गोपनीयता की शपथ दिलायी गयी।