logo
Bulli Bai एप केस: पुलिस ने 21 वर्षीय छात्र को किया गिरफ्तार, इस मामले में यह तीसरी गिरफ्तारी
 

मुंबई। मुंबई पुलिस ने बुल्ली बाई विवाद के सिलसिले में उत्तराखंड के एक 21 वर्षीय छात्र को गिरफ्तार किया है। इस मामले में यह तीसरी गिरफ्तारी है।

मुंबई पुलिस की साइबर सेल ने इस मामले में पहले मुख्य अपराधी श्वेता सिंह (18) को उत्तराखंड से और इंजीनियरिंग के छात्र विशाल कुमार झा (21) को बेंगलुरु से गिरफ्तार किया था।

मुंबई पुलिस ने ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर प्लेटफॉर्म गिटहब पर होस्ट किए गए 'बुली बाई' ऐप पर 'नीलामी' के लिए सैकड़ों मुस्लिम महिलाओं की फर्जी तस्वीरें अपलोड करने की शिकायतों के बाद अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी।

मुख्य आरोपी कथित तौर पर नेपाल में स्थित अपने दोस्त के निर्देश पर काम कर रहा था। जांच दल के सूत्रों ने कहा कि आरोपी से मिली प्राथमिक जानकारी से पता चला है कि एक नेपाल नागरिक, जिसकी पहचान गियू के रूप में हुई है, उसे ऐप पर की जाने वाली गतिविधियों के बारे में निर्देश दे रहा था। पुलिस उसकी और उससे जुड़े अन्य लोगों की भूमिका की जांच कर रही है।

उसे उधम सिंह नगर जिले से हिरासत में लिया गया था और फिर मुंबई पुलिस के अधिकारियों ने 5 जनवरी तक ट्रांजिट रिमांड की मांग की थी। उसके नाम का खुलासा विशाल कुमार ने किया था, जिसे पहले बेंगलुरु में गिरफ्तार किया गया था। उन्होंने कहा कि वह महिला के संपर्क में थे और दावा किया कि वह उन लोगों के संपर्क में हैं जो बुल्ली बाई ऐप पर पोस्ट और गतिविधियों पर काम कर रहे थे।

Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें व टेलीग्राम ग्रुप को जॉइन करने के लिए  यहां क्लिक करें।