logo
आयुष मंत्रालय ने अपनी कैंटीन में 'आयुष आहार' उपलब्ध करा कर की नई शुरूआत
 

आयुष मंत्रालय ने पौष्टिक आहार और एक स्वस्थ जीवन को बढ़ावा देते हुए सोमवार को आयुष भवन स्थित अपनी कैंटीन में 'आयुष आहार' उपलब्ध करवाकर एक नई शुरुआत की है।

एक प्रायोगिक परियोजना के रूप में इसकी शुरुआत की गई है। इस ‘आयुष आहार’ में वेजिटेबल पोहा, भाजणी वडा, गाजर का हलवा और कोकम ड्रिंक शामिल हैं। अधिकारियों ने बताया सभी व्यंजन लोगों के बीच काफी लोकप्रिय है और इनकी पौष्टिकता का स्तर काफी अधिक है।

इस अवसर पर आयुष मंत्रालय के सचिव वैद्य राजेश कोटेचा ने कहा कि कैंटीन में उपलब्ध कराए गए आयुष आहार स्वास्थ्य के लिए लाभदायक और आसानी से पचने वाले हैं। राजेश कोटेचा ने कहा कि मंत्रालय ने 2021 में विभिन्न राज्यों के साथ सहभागिता की है और राष्ट्रीय आयुष मिशन के तहत कुछ सराहनीय कार्य किए हैं। उन्होंने आगे कहा, “इस साल हमारा ध्यान शिक्षा, अनुसंधान, विनिर्माण, सार्वजनिक स्वास्थ्य और शासन पर होगा। हम एकल खिड़की प्रणाली पर भी काम कर रहे हैं।”

इस बैठक के दौरान अधिकारियों ने साल 2022 में आयुष जीवन शैली को बढ़ावा देने के लिए अपनी कार्ययोजना पर भी चर्चा की। इस अवसर पर आयुष मंत्रालय के विशेष सचिव प्रमोद कुमार पाठक ने कहा कि आयुष आहार खरीदने वालों को अपनी प्रतिक्रिया देने के लिए एक फॉर्म दिया जाएगा। इन प्रतिक्रियाओं के आधार पर कैंटीन में नए आहार को नियमित किया जाएगा।

इस कार्यक्रम में मौजूद अन्य अधिकारियों में आयुष मंत्रालय की संयुक्त सचिव कविता गर्ग और डी सेंथिल पांडियन भी शामिल थे।

Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें व टेलीग्राम ग्रुप को जॉइन करने के लिए  यहां क्लिक करें।