ढाई फीसदी शुल्क लगने के विरोध में नौबस्ता गल्ला मंडी 26 सितंबर तक हुई बंद

by saurabh

कानपुर। मंडी के बाहर कोई शुल्क न लगने और अंदर कारोबार करने पर ढाई फीसदी शुल्क लगने के विरोध में सोमवार से शनिवार तक नौबस्ता गल्ला मंडी बंद रखेंगे। वहीं आपको बता दें कि सोमवार सुबह 11:00 बजे से मंडी सचिव कार्यालय के सामने धरना दिए बैठे हैं सभी मंडी व्यापारी।
सोमवार से शनिवार तक 6 दिन नौबस्ता गल्ला मंडी के व्यापारी मंडी बंद रखेंगे।

आपको बता दें ढाई फ़ीसदी शुल्क लगने के विरोध में आढ़तियों ने की है मंडी बंद।सोमवार सुबह 11:00 बजे से मंडी आढ़ती धरने पर मंडी के सामने ही बैठ गए हैं। आढ़तियों का कहना है कि जून में केंद्र सरकार ने मंडी के बाहर खरीद और फरोख्त पर मंडी शुल्क खत्म कर दिया था। आढ़तियों का कहना है की इसके बाद भी मंडी में कारोबार से ढाई फीसद शुल्क नहीं हटाया गया। इससे मंडी में खरीद बिक्री करने वाले आढ़तियों को माल महंगा मिल रहा है।

वही उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार मंडल के आह्वान पर 9 से 11 जुलाई तक मंडियों में बंदी कराई गई थी। जिसके बाद भी कोई हल नहीं निकला। तो अब सोमवार से शनिवार तक गल्ला मंडी फिर बंद की जा रही है। वही कानपुर नौबस्ता गल्लामंडी अध्यक्ष प्रकाश चंद त्रिवेदी का कहना है कि मंडी में कारोबार करने वालों के पास काम नहीं रह गया है। इसके विरोध में ही 26 सितंबर तक के लिए बंदी का आवाहन किया गया है।

  • जितेंद्र सिंह राठौर

Related Posts