विवाहिता प्रेमिका के कहने पर व्यापारी ने रच डाली अपने ही अपहरण की साजिश

by vaibhav

प्यार में सुना है लोग अंधे हो जाते हैं। और प्यार में लोग कुछ भी कर सकते हैं। ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश के मैनपुरी जनपद में सामने आया है। जहां एक व्यापारी ने विवाहिता प्रेमिका के एक फोन कॉल से खुद के ही अपहरण की साजिश रच डाली।

क्या है पूरा मामला

मैनपुरी में अभी बीते कुछ दिनों पहले व्यापारी के अपहरण का मामला सामने आया था। जिसका पुलिस ने खुलासा किया। पूछताछ में खुलासा हुआ है कि व्यापारी को 1 दिन उसकी विवाहिता प्रेमिका का फोन आया तो प्रेमिका ने बताया कि उसका पति उसको पीटता है। और वह उसके साथ नहीं रहना चाहती।  युवक अपनी प्रेमिका को परेशान न देखा जा सका और उसने अपने अपहरण की साजिश रच डाली साथ ही आपको बता दें कि व्यापारी के ऊपर व्यापार को लेकर कर्जा भी बहुत था। तो व्यापारी ने अपने अपहरण की साजिश रच डाली।

वहीं पुलिस ने मीडिया को जानकारी बताया कि थाना बरनाहल क्षेत्र के गांव दिहुली निवासी बिल्डिंग मैटेरियल व्यापारी सुलेमान 21 सितंबर की शाम दन्नाहार क्षेत्र से लापता हो गया था। चालक इमरान ने पुलिस को स्कॉर्पियो सवार चार बदमाशों के अगवा व्यापारी को अगवा किए जाने के बारे में बताया। व्यापारी के भाई सद्दाम ने अज्ञात लोगों पर अपहरण का मामला दर्ज करवाया था। जांच में पुलिस को व्यापारी पर लाखों का कर्ज होने और उसकी एक प्रेमिका के बारे में जानकारी मिली। इसके बाद पुलिस ने व्यापारी के चालक से सख्ती से पूछताछ की तो उसने व्यापारी की पूरी पोल खोल दी।

पुलिस ने बताया कि व्यापारी का अपहरण नहीं हुआ था। उसने अपने भाई सद्दाम और चालक इमरान के साथ मिलकर अपहरण का नाटक रचा था। वह प्रेमिका को लेकर भिवाड़ी (राजस्थान) चला गया। उसके कहने पर चालक ने खुद ही गाड़ी के शीशे तोड़ने के बाद सिर में चोट मारी। व्यापारी का भाई सद्दाम भी योजना में शामिल था। उसने झूठा मुकदमा दर्ज कराया। इस साजिश में एक दोस्त जाहिद व्यापारी का पूरा साथ दे रहा था। व्यापारी लाखों के कर्ज से बचने के साथ ही शादीशुदा प्रेमिका के साथ रहना चाहता था। चारों आरोपियों को गिरफ्तार करने के बाद जेल भेजा गया है। आरोपियों के पास से बोलेरो गाड़ी, 2.69 लाख रुपये और मोबाइल बरामद हुआ है।

रिपोर्ट :- दिलशाद अहमद

Related Posts