रुपईडीहा(बहराइच) । जनपद बहराइच के विभिन्न विकास खंडों में अदेय प्रमाण पत्र एवं प्रत्याशी पर्चा खरीद के लिए कोविड नियमों को ताक पर रख धक्का-मुक्की करते हुए नज़र आये।यही हाल विकासखंड नवाबगंज में विभिन्न खिड़कियों में देखने को मिला। विकासखंड नवाबगंज के सभी खिड़कियो पर अव्यवस्थाओं का ज़बरदस्त बोलबाला दिखाई दिया । विकासखंड नवाबगंज परिसर में पुलिस का किसी प्रकार का दबाव नजर नहीं आ रहा है। प्रत्याशी बिना मास्क के इधर-उधर घूमते नजर आए ।

अधिकारी एवं कुछ कर्मचारी अपने खिड़कियों के अंदर बैठे हुए थे। वहीं से मनमाने कीमत से पर्चे बेचे जा रहे हैं । जबकि विकासखंड नवाबगंज के चिकित्सा प्रभारी डाक्टर अर्चित एवं उनके माता पिता के साथ कोविड-19 जांच के दौरान पॉजिटिव पाए गए हैं। जो अपने को होम आइसोलेट कर चुके है। दरअसल क्षेत्र में महाराष्ट्र गुजरात दिल्ली से नेपाली कामगारों को लौटने का सिलसिला बदस्तूर जारी है। जिसके कारण क्षेत्र में करोना महामारी का संक्रमण बढ़ने की अधिक संभावना है। स्वास्थ्य एवं पुलिस विभाग की तरफ से किसी भी प्रकार का इस महामारी को रोकने के लिए प्रयास नहीं किया जा रहा है। जबकि क्षेत्र में कोरोना महामारी से तीन की मौत हो चुकी है। अगर जांच कराया जाए तो लगभग छोटे से ग्राम पंचायत में हजारों की संख्या में पॉजिटिव कोरोना मरीज मिल सकते हैं। लेकिन ना तो मास्क ना तो 2 गज की दूरी के नियम का पालन नियम का पालन किया जा रहा है।कभी भी करोना का संक्रमण इस क्षेत्र के लिए विकट महामारी का रूप ले सकता है।

रिपोर्ट रईस