• कोरोना जैसी विकट परिस्थितियों में आयोजित कोंच इंटरनेशनल फ़िल्म फेस्टिवल के सफल आयोजन के लिए मिला सम्मान

कोंच(जालौन):- कोंच इंटरनेशनल फ़िल्म फेस्टिवल के संस्थापक/संयोजक पारसमणि अग्रवाल को राष्ट्रीय युवा दिवस पर युगांडा देश में यूथ आइकॉन अवॉर्ड 2021 से सम्मानित किया गया है। पारस पत्रकारिता से परास्नातक कर चुके है एवं वर्तमान में बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय झांसी के बाबू जगजीवनराम विधि संस्थान के एल. एल. बी.के विद्यार्थी है।
गौरतलब हो कि कोरोना जैसी विषम परिस्थितियों में जंहा बड़े बड़े आयोजन निरस्त कर दिए गए या स्थागित कर दिए गए।

ऐसे नकारात्मक समय मे भी सकारात्मक ऊर्जा के साथ पारस शहर सिनेमा और गांव कस्बों की प्रतिभाओं को एक मंच पर लाने एवं अपने नगर व बुंदेलखंड को एक नई पहचान दिलाने जैसे बहुउद्देश्यीय संकल्पों के साथ कोंच फ़िल्म फेस्टिवल की नींव रखी। प्रथम प्रयास में ही इस फेस्टिवल से न सिर्फ भारत के विभिन्न शहरों से लोग जुड़े अपितु आधा दर्जन अन्य देश के लोगों ने भी कोंच फ़िल्म फेस्टिवल में वर्चुअल सक्रिय सहभागिता कर इस फ़िल्म फेस्टिवल को इंटरनेशनल बना दिया।

कोरोना जैसी विषम परिस्थितियों में ऑनलाइन स्वरूप में हुए यह फ़िल्म फेस्टिवल लगभग 3 लाख से अधिक लोगों तक अपनी पहुँच बनाने में कामयाब रहा। कोंच इंटरनेशनल फ़िल्म फेस्टिवल से जुड़ी इन्हीं उपलब्धियों और कड़े संघर्ष को देखते हुए entebbe प्रोडक्शन ने कोविड-19 जैसे समय में सफल फेस्टिवल के आयोजन के लिए कोंच इंटरनेशनल फ़िल्म फेस्टिवल के संस्थापक/संयोजक पारसमणि अग्रवाल को यूथ आइकॉन अवॉर्ड 2021 से नवाजा है। यह अवॉर्ड entebbe प्रोडक्शन की ओर से प्रोडक्शन के सी.ई.ओ. फ़िल्म निर्माता जोफ्रेय किंग ने प्रदान किया।

इस अवसर पर पारसमणि अग्रवाल ने कहा कि यह मेरे लिए गौरव की बात है कि भारत से बाहर भी मेरे प्रयास को सराहा जा रहा मेरी हमेशा कोशिश रहेगी कोंच इंटरनेशनल फ़िल्म फेस्टिवल को फ़िल्म फेस्टिवलों की भीड़ में शामिल न कर एक नए कॉन्सेप्ट के साथ नई ऊंचाई प्रदान करें।