अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज की स्थापना साल 2016 में की गई थी. व्यवस्थाओं में कमी के चलते दो सत्र को जीरो ईयर घोषित किया गया. इसके चलते MCI ने कॉलेज का दौरा किया और भवन व स्टाफ की कमी को दूर करने के साथ व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने के निर्देश दिए थे.


इसे देखते हुए मेडिकल कॉलेज में फैकल्टी की समस्या को दूर किया. कॉलेज में स्टाफ की व्यवस्था के साथ ही अस्पताल को भी बेहतर बनाया गया. स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने कहा, छत्तीसगढ़ स्वास्थ्य विभाग सभी को बेहतर चिकित्सा सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए तत्पर है.

दरअसल अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज में 100 सीटों पर प्रवेश होगा. इसके लिए मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया (MCI) ने मान्यता दे दी है. स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी. साथ ही सबको इसके लिए बधाई भी दी है.

मंत्री सिंहदेव ने ट्वीट कर कहा कि अम्बिकापुर मेडिकल कॉलेज में 100 सीट एडमिशन की मान्यता के लिए सभी को बधाई। छत्तीसगढ़ स्वास्थ्य विभाग सभी को बेहतर चिकित्सा सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए तत्पर है।

रिपोर्ट: प्रकाश झा