पीएम मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति से की बातचीत, म्यांमार समेत आपसी सहयोग पर की चर्चा

नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बिडेन से सोमवार रात को फोन पर बातचीत करते हुए क्षेत्रीय मुद्दों और दोनों देशों की प्राथमिकताओं समेत म्यांमार की मौजूदा स्थिति को लेकर चर्चा की।

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर स्वयं यह जानकारी देते हुए कहा, “जो बिडेन से बात की और उन्हें सफलता के लिए शुभकामनाएं दीं। हमने क्षेत्रीय मुद्दों और साझा प्राथमिकताओं पर चर्चा की। हम जलवायु परिवर्तन के खिलाफ अपने सहयोग को आगे बढ़ाने पर भी सहमत हुए।”

उन्होंने कहा, “राष्ट्रपति जो बिडेन और मैं एक नियम-आधारित अंतर्राष्ट्रीय व्यवस्था के लिए प्रतिबद्ध हैं। हम भारत-प्रशांत क्षेत्र की शांति और सुरक्षा के लिए अपनी रणनीतिक साझेदारी को मजबूत करने के लिए तत्पर हैं।”

ये भी पढ़ें- अमेरिका ने म्यांमार पर प्रतिबंध लगाने की धमकी दी

व्हाइट हाउस की तरफ से जारी जानकारी के अनुसार, “दोनों नेताओं ने स्वतंत्र और खुले भारत-प्रशांत क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए करीबी सहयोग जारी रखने पर सहमति व्यक्त की जिसमें नेविगेशन की स्वतंत्रता, क्षेत्रीय अखंडता और एक मजबूत क्षेत्रीय वास्तुकला का समर्थन शामिल है।”

पीएण मोदी और जो बिडेन ने म्यांमार में वापस लोकतंत्र को बरकरार रखे जाने को लेकर भी सहमति व्यक्ति की जहां स्टेट काउंसलर आंग सान सू की और म्यांमार के राष्ट्रपति विन म्यिंट के खिलाफ तख्तापलट करने के बाद सेना ने एक साल के लिए आपातकाल लागू कर दिया है।

दोनों नेताओं ने साथ ही इस बात पर भी प्रतिबद्धत्ता व्यक्ति की कि अमेरिका और भारत वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई जीतने के लिए मिलकर काम करेंगे तथा जलवायु परिवर्तन को लेकर भी अपनी साझेदारी को नवीनीकृत करेंगे।

ये भी पढ़ें- म्यांमार ने रूस की स्पूतनिक कोरोना वैक्सीन को दी मंजूरी

इसके अलावा वैश्विक अर्थव्यवस्था का पुनर्निर्माण इस तरह से करेंगे जिससे दोनों देशों के लोगों को फायदा हो। दोनों ने वैश्विक आतंकवाद के संकट के खिलाफ एक साथ खड़े होने को लेकर भी पूरी तरह से सहमति व्यक्त की।

व्हाइट हाउस के अनुसार बातचीत के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति बिडेन ने भी विश्व भर में लोकतांत्रिक संस्थानों और मानदंडों की रक्षा करने की अपनी इच्छा को रेखांकित किया और कहा कि अमेरिका-भारत संबंधों के लिए लोकतांत्रिक मूल्य साझा आधार है।

जो बिडेन के पिछले महीने राष्ट्रपति पद की शपथ लेने के बाद दोनों नेताओं के बीच फोन पर यह पहली बार बातचीत हुई है। इससे पहले पीएम मोदी ने जो बिडेन को राष्ट्रपति चुनाव जीतने के बाद भी अपनी शुभकामनाएं भेजीं थीं।

इन्पुट – यूनीवार्ता