भोपाल । प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य की घोषणा के बाद सांसद सिंधिया के दौरे राजनीतिक सरगर्मी तेज हो गई है। पहले से ही सरगर्मियों के बीच राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया तीन दिन के भोपाल पहुंचे हैं। वे प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा के घर पहुंचे। दोनों नेताओं के बीच बंद कमरे में मुलाकात की। लंच भी किया। इससे पहले सिंधिया ने अपने प्रवास को लेकर उन्होंने कहा कि भाजपा मेरा घर है। इसलिए मैं सबसे मिलने आया हूं।

उन्होंने नेतृत्व परिवर्तन और राजनीतिक बदलाव से इनकार करते हुए कहा कि कांग्रेस ऐसे सवाल उठाती है। कांग्रेस ने वैक्सीन को लेकर भी सवाल उठाए थे, लेकिन जनता ने जवाब दे दिया। सिंधिया और प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा के बीच मुलाकात को लेकर ऐसा माना जा रहा है कि निगम-मंडलों में नियुक्तियों को लेकर इनके बीच चर्चा हुई। पार्टी सूत्रों के मुताबिक प्रदेश कार्यसमिति की घोषणा के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर निगम-मंडलों में नियुक्ति करने का दबाव बढ़ गया है। दरअसल, सिंधिया चाहते हैं कि उनके समर्थक नेताओं को निगम-मंडलों की कमान दी जाए। इसमें विधानसभा उप चुनाव हार चुकी इमरती देवी को महिला वित्त विकास निगम की कमान देने पर सरकार और संगठन दोनाें लगभग राजी हैं, लेकिन अन्य नेताओं को लेकर सहमति नहीं बन पाई है। वहीं कई जिलों में अपने समर्थकों का एडजस्ट करने के लिए बात सामने आई है।

रिपोर्ट : आसिफ खान