logo
राम के दरवार पर बोले अमित शाह, रामभक्तों पर गोली चलाने वालों का हिसाब लेगी जनता
 

अयोध्या। केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने अयोध्या में समाजवादी पार्टी (सपा) का नाम लिये बिना कहा कि मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम के मंदिर निर्माण में लगे कारसेवकों पर गोली चलाने वालों से अब उत्तर प्रदेश की जनता हिसाब लेगी। शाह ने शुक्रवार को अयोध्या में जनसभा को संबोधित करते हुये कहा कि रामजन्मभूमि को मुक्त कराने के लिये कितने ही रामभक्तों पर गोली चली, कितने ही साधु-संतों ने देह त्याग दिया, इसकी कोई गिनती नहीं है। उन्होंने कहा कि अब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सरकार बनने के बाद अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण हो रहा है। शाह ने राजकीय इंटर कालेज के मैदान में जनविश्वास रैली को सम्बोधित करते हुए कहा कि अयोध्या में कारसेवकों पर गोली किसने चलवायी थी, यह सभी लोग जानते हैं। अब इसका हिसाब जनता मांगेगी। 

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार सबका साथ, सबका विश्वास पर काम करती है और भाजपा ने जो कहा था उसके मुताबिक अयोध्या में श्रीरामजन्मभूमि पर भव्य मंदिर का निर्माण का काम शुरू हो गया है।उन्होंने कहा कि आने वाले समय में भगवान राम की नगरी में रामलला का इतना भव्य मंदिर बनेगा कि दुनिया देखती रह जायेगी। देश की आजादी के 75 वर्ष बाद प्रधानमंत्री मोदी ने अयोध्या में रामजन्मभूमि पर विराजमान श्रीराम के मंदिर को भव्य रूप प्रदान करने के लिये पांच अगस्त 2020 को शिलान्यास किया था। गृह मंत्री ने कहा, “राम मंदिर के पक्ष में उच्चतम न्यायालय का फैसला आने के बाद मैं पहली बार अयोध्या आया हूं और रामजन्मभूमि में विराजमान रामलला का दर्शन-पूजन और प्रसिद्ध हनुमानगढ़ी मंदिर पर जाकर मत्था टेकने के बाद सरयू जी का आचमन करके मैं अपने आप को धन्य महसूस कर रहा हूं।”

शाह ने कहा कि 75 वर्ष पूर्व देश के पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल ने सोमनाथ मंदिर का जीर्णोद्धार करवा कर उस मंदिर को भव्य रूप प्रदान किया था। उसी प्रकार आज देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अयोध्या में रामजन्मभूमि का शिलान्यास करके भव्य राम मंदिर का निर्माण शुरू कराया है। जो मंदिर यहां बनेगा उसे दर्शन के लिये दुनिया भर के रामभक्त आयेंगे।उन्होंने लोगों को याद दिलाया कि किस बेरहमी से सपा सरकार ने रामभक्तों पर गोली चलवायी थी। शाह ने कहा कि देशवासी जानते भी हैं कि रामलला का मंदिर न बने इसके लिये सभी दलों ने पूरा जोर लगा दिया था। लेकिन, देश की जनता ने भारतीय जनता पार्टी को पूर्ण बहुमत देकर मोदी सरकार बनवा कर राम मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त किया और आज मंदिर बनकर तैयार हो रहा है। शाह ने कहा कि मंदिर निर्माण के साथ ही अयोध्या में पर्यटन का महत्व बढ़ रहा है। इसके मद्देनजर ही अयोध्या का चौतरफा विकास भी सुनिश्चित किया जा रहा है। 

उन्होंने कहा कि विकास की प्रक्रिया को सुचारु बनाये रखने के लिये उत्तर प्रदेश में 2022 में योगी सरकार का फिर से सत्ता में आना समय की मांग है।इससे पहले शाह ने अयोध्या पहुंचने पर रामलला के दर्शन किये। इसके बाद वह श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष एवं मणिराम दास छावनी के महंत नृत्यगोपाल दास के निवास स्थान पर जा कर उनसे भेंट कर उनसे आशीर्वाद प्राप्त किया।

वार्ता

Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें व टेलीग्राम ग्रुप को जॉइन करने के लिए  यहां क्लिक करें।