सिरोही (राजस्थान) : इन दिनों इतने फ्रॉड के मामले बढ़ गए हैं कि अब जल्दी भरोसा किसी पर नहीं किया जा सकता। ताजा मामला राजस्थान के सिरोही जनपद से सामने आया है जहां पर पुलिस ने लुटेरी दुल्हन और उसके साथियों को गिरफ्तार किया है। आपको बता दें कि यह पूरा गैंग पहले तो शादी करवाने के नाम पर मोटी रकम वसूलता था। और फिर शादी होने के बाद दुल्हन जेवर व पैसे लेकर साथियों के साथ रफूचक्कर हो जाती थी।

मिली जानकारी के अनुसार आपको बता दें कि रेवदर का रहने वाला एक युवक इस गैंग के झांसे में आया और उसने शादी के लिए एक दलाल से बात की दलाल द्वारा उसकी शादी कराने के 6 लाख रुपए में बात पक्की हुई। और शादी के लिए बतौर एडवांस दलाल द्वारा 50 हजार की रकम युवक से ली गई। पीड़ित युवक ने शादी का एग्रीमेंट बनवाने के लिए दलाल से जब लड़की का आधार कार्ड मांगा तो पहले तो दलाल ने टालमटोल कर बात को टालने की कोशिश की लेकिन जब बात नहीं बनी तो दलाल द्वारा युवक को लड़की का एक फर्जी आईडी कार्ड दिया गया। युवक द्वारा जब उस आईडी कार्ड की जांच करवाई गई तो है आईडी कार्ड किसी दूसरी लड़की का निकला। युवक ने समझ लिया कि उसको शादी के नाम पर ठगा गया है युवक ने मामले की जानकारी संबंधित थाने पुलिस को दी।

जब दलाल को जानकारी हुई कि युवक को उसके साथ किए जा रहे हैं फ्रॉड का पता चल गया है तो दलाल अपने गैंग के साथ फरार हो गया। अमला संज्ञान में आने के बाद पुलिस ने गहनता से तफ्तीश की तो पता चला कि यह है शादी कराने का काला कारोबार मेहसाणा निवासी अरविंद चलाता है। और वह आदिवासी लड़कियों को पैसे का लालच देकर उनको दुल्हन बनाता है एवं फर्जी मां बाप भी तैयार करता है। पुलिस ने दुल्हन के पिता का फर्जी किरदार निभाने वाले भीगे खान को भी गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने दुल्हन के फर्जी रिश्तेदार बनने वाले भी तीन लोगों को गिरफ्तार किया है जांच में पता चला है कि 10-10 हजार रुपए का झांसा देकर। इनको काम पर लगाया जाता था पुलिस फिलहाल गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ कर रही है।

रिपोर्ट : हेमंत अग्रवाल

राजस्थान ब्यूरो प्रमुख