सिरोही-देश और प्रदेश में चल रहे कोविड वैक्सीनेशन के तीसरे चरण में शनिवार को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. राजेश कुमार की उपस्थिति में जिला एवं सेशन न्यायाधीश श्री विक्रांत गुप्ता ने जिला अस्पताल स्थित कोविड-19 टीकाकरण केन्द्र में अपना कोविड-19 का टीकाकरण करवाया। साथ ही विशेष न्यायाधीश, पोक्सो न्यायालय के श्री अजिताभ आचार्य, परिवारिक न्यायालय के न्यायाधीश श्री शैलेंद्र व्यास, मोटर दुर्घटना दावा अधिकरण के न्यायाधीश श्रीमती अनु अग्रवाल, अ. जा/ज. जा. (अ. नि.) प्रकरण के विशिष्ट न्यायाधीश श्रीमती पूर्णिमा गौड़, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट सुश्री जयमाला पानीगर ने भी कोविड-19 का टीका लगवाया। मेल नर्स-2 राजेश सोनी ने न्यायिक अधिकारियों को कोविड-19 का टीकाकरण किया साथ ही उन्हें इस संबंध में पूरी जानकारी भी दी।
जिला एवं सेशन न्यायाधीश ने बताया कि कोविड वेक्सीनेशन पूरी तरह सुरक्षित है। उन्होंने कहा कि लोगों के जीवन को बचाने के लिए यह सबसे बड़ा सुरक्षा कवच है।
न्यायिक अधिकारीगण इस मौके पर आमजन से अपील करते हुए कहा कि कोविड से बचाव के लिए अब टीका आ गया है। देश के वैज्ञानिकों पर भरोसा रखें। टीकाकरण पूरी तरह से सुरक्षित है तथा कोविड से बचाव का जरिया है। इसके बाद भी कोरोना से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंस और मास्क का उपयोग जारी रखें।
इस मौके पर जिला क्षयरोग अधिकारी डॉ. संजय गहलोत, बीसीएमओ डॉ. विवेक कुमार, मनोरोग विशेषज्ञ डॉ. जेपी कुमावत के साथ जिला आईईसी समन्वयक दिलावर खाँ सहित अन्य स्वास्थ्य एवं न्यायिक कर्मचारी मौजूद रहे।

रिपोर्ट हेमन्त अग्रवाल राजस्थान ब्यूरो चीफ