मुरादाबाद: देश और दुनिया में महिलाओं के विरुद्ध बढ़ता अपराध अपनी चरम सीमा पर है। आए दिन महिलाओं के साथ हो रहे दुष्कर्म के नए मामले सामने आ रहे हैं। दिन प्रती दिन बढ़ता अपराध देश कि बेटियों के जीवन को और कठिन बना रहा है। ऐसे में घर पर अपनों से मिलने वाली सुरक्षा भी ना होने पर महिलाओं का भविष्य गहन अंधेरे में जाता दिखाई देता है।

मुरादाबाद के मझोला थाना इलाके के हनुमान नगर में सिक्योरिटी गार्ड ने शनिवार दोपहर अपने ही बेटे को दो गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया। बताया जा रहा है कि आरोपी पिता अपने ही बहू के साथ दुष्कर्म करने का प्रयास कर रहा था।

बहू ने इसकी शिकायत अपने पति से की तो घर में विवाद शुरू हो गया। इसी विवाद के चलते पिता ने बेटे को दो गोली मार दी। निजी अस्पताल में इलाज के दौरान बेटे दुष्यंत की मौत हो गई।

घटना शनिवार दोपहर 12:00 बजे की है। हनुमान नगर में वीरेंद्र शर्मा का मकान है। वीरेंद्र शर्मा के बड़े बेटे दुष्यंत शर्मा की पिछले साल जनवरी माह में दिव्या नाम की युवती से शादी हुई थी। दिव्या का आरोप है कि उसके ससुर जी उस पर बुरी नियत रखते थे।

तीन दिन पहले दिव्या की सास और ननद एक शादी समारोह में शामिल होने बाहर गई थी। उस महिला के दोनों देवर भी घर में मौजूद थे। आरोपी ने इस दौरान बहू के साथ दुष्कर्म का प्रयास किया। विरोध करने पर महिला को घर से बाहर निकालने और अलग करने की धमकी दी।

पति के घर लौटने पर महिला ने अपने ससुर की शिकायत की तो घर में विवाद शुरू हो गया। पुलिस अधीक्षक अमित आनंद ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है.