कानपुर। डिजिटाइजेशन के दौर में तेजी से बदलते देश के साथ कानपुर भी कदम से कदम मिला कर चल रहा है। आज इसी के साथ कानपुर में एप्लीकेशन आधारित स्मार्ट पार्किंग की शुरूआत होते ही कानपुर उत्तर प्रदेश का पहला स्मार्ट पार्किंग वाला शहर बना। शहर में फिलहाल स्मार्ट पार्किंग पायलट प्रोजेक्ट के तहत कारगिल पार्क और लाजपत भवन में शुरू की गई है।

आज महापौर प्रमिला पाण्डेय एवं राज्यमंत्री नीलिमा कटियार द्वारा कानपुर स्मार्ट सिटी के इस प्रोजेक्ट शुभारम्भ कानपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के चेयरमैन और मंडलायुक्त राजशेखर, पुलिस आयुक्त असीम अरूण, डी0सी0पी0 ट्रैफिक बी0बी0जी0टी0एस0 मूर्ति, नगर आयुक्त/मुख्य कार्यकारी अधिकारी, कानपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड शिवशरणप्पा जी0 एन0 जी की उपस्थिति में फीता काटकर उद्घाटन किया गया।

KDA की पार्किंग भी होगी स्मार्ट

स्मार्ट सिटी के चेयरमैन व मंडलायुक्त राजशेखर ने बताया कि शहर की सभी पार्किंग को एकीकृत किया जायेगा। KDA की मल्टीस्टोरी पार्किंग एवं नगर निगम की फुटपाथ पर होने वाली सभी पार्किंगों को मोबाइल एप्लीकेशन के माध्यम से एक प्लेटफार्म पर लाया जायेगा, जिससे लोगों को अलग अलग ऐप इंस्टाल नहीं करना पड़ेगा

गायब रहीं बुनियादी सुविधाएं, जवाब देने से बचते दिखे नगर आयुक्त

कुछ दिन पहले ही शहर 42 में 40 पार्किंग स्थानों को पीने के पानी और शौचालय की बेसिक व्यवस्था न होने के कारण निलंबित कर दिया गया था। जब आज स्मार्ट पार्किंग के स्थान पर इन बुनियादी सुविधाओं की उपलब्धता का सवाल पत्रकारों ने नगर आयुक्त से पूछा तो वे सवाल टाल कर वहाँ से चलते बने।

स्मार्ट पार्किंग एक नज़र में —

  • — कानपुर स्मार्ट सिटी के अन्तर्गत वर्ष 2019 में 9 घटकों की स्थापना की गई थी, जिसमें से स्मार्ट पार्किंग का निर्माण भी किया गया था, जिसमें ₹ 14.93 करोड़ की लागत आई थी।
  • — शहर में नगरवासियों के लिए 42 स्थानों पर स्मार्ट पार्किंग दो पहिया वाहन व चार पहिया वाहन हेतु सुविधा प्रदान की गयी है, जिसमें प्रमुख 13 स्थल 500 सेंसरो से युक्त हैं और इस प्रकार कुल 1430 दो पहिय़़ा वाहन पार्किंग की सुविधा उपलब्ध कराई गई है।

— मोबाइल ऐप (Kanpur Smart Parking) एवं POS मशीन के द्वारा शहर के नागरिक स्मार्ट पार्किंग का लाभ आसानी से उठा सकते हैं। शहर के नागरिक मोबाइल ऐप को गूगल प्लेस्टोर और आईओएस स्टोर से डाउनलोड करके पार्किग स्लॉट को घर बैठे ही आसानी से बुककर सकते हैं।

— आॅनलाइन बुकिंग करवाते समय बुकिंग चार्ज देना होगा, जबकि पार्किंग पर पार्किंग शुल्क अलग से लिया जायेगा। बुकिंग के बाद 30 मिनट तक आने का इंतजार किया जायेगा। इस अवधि तक वाहन न आने पर बुकिंग की राशि जब्त कर ली जायेगी।

— पार्किग स्लॉट को बुक करने के लिए नागरिकों को ऑन लाइन पेमेण्ट के भुगतान की सुविधा विभिन्न माध्यमों से प्रदान की गई है, जिनमे आनलाइन माध्यम से क्रेडिटकार्ड, डेबिटकार्ड, भीम ए0पी0आई0, वॉलेट एंवनेटबैंकिंग के द्वारा भुगतान किया जा सकता हैं व पार्किंग स्थल पर पी0ओ0एस0 मशीन के द्वारा भी पार्किंग सुविधा हेतु भुगतान किया जा सकता है।

— पार्किंग स्थानों पर लगे CCTV कैमरों के द्वारा वाहनों की निगरानी की जाती है।