logo
धोखाधड़ी : जमीन रजिस्ट्री करने को लेकर ठग लिए 2 लाख 94 हज़ार रुपये, पुलिस ने गिरफ्तार
 

सुपौल। त्रिवेणीगंज पुलिस ने जमीन बेचने के नाम पर धोखाधड़ी कर रुपये ठगने वाला एक ठग को गिरफ्तार किया है, जिसे आज त्रिवेणीगंज अनुमंडलीय अस्पताल में कोविड टेस्ट के बाद न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है।

दरअसल थाना क्षेत्र के लालपट्टी वार्ड नम्बर 16 निवासी रंजन कुमार ने त्रिवेणीगंज पुलिस को आवेदन देकर थाना क्षेत्र के पतर्घट्टी मंगल बाजार निवासी गिरफ्तार ठग उमेश कुमार भगत के खिलाफ थाना में कांड संख्या 22/2022 दर्ज कराया है।

दर्ज कांड में पीड़ित द्वारा कहा गया है कि गिरफ्तार ठग उमेश कुमार भगत से त्रिवेणीगंज प्रखंड के मौजा बभनगामा में 2 कट्ठा जमीन खरीदने की बात तय कर निर्धारित राशि दो लाख 94 हज़ार आरोपी उमेश कुमार भगत को भुगतान कर दिया। भुगतान के बाद जब पीड़ित रंजन कुमार ने उससे रजिस्ट्री के लिए आग्रह किया तो आरोपी उमेश कुमार भगत 17 दिसम्बर 2021 को निबंधन कार्यालय त्रिवेणीगंज में उपस्थित होकर अपना आधार कार्ड देकर दस्तावेज पर साक्षी के समक्ष हस्ताक्षर कर दिया। इससे पूर्व 16 दिसम्बर 2021 को मेरे द्वारा बैंक चलान के माध्यम से निबंधन शुल्क,एक हजार के दो औऱ पांच सौ रुपये के दो भारतीय गैर न्यायिक स्टाम्प भी मेरे द्वारा खरीद कर लिया गया। लेकिन दस्तावेज तमिल करने से पहले आरोपी गिरफ्तार ठग उमेश कुमार भगत कहीं कुछ कारण बताकर निकल गए जिससे उक्त तिथि को दस्तावेज प्रस्तुत नहीं हुआ।

आरोपी ने 18 दिसम्बर 2021 को निबंधन कार्यालय आकर केवाला करने का आश्वासन दिया लेकिन उक्त तिथि को भी नहीं आए। जिसके बाद पीड़ित ने अपने परिजन के साथ मिलकर आरोपी गिरफ्तार ठग के घर जाकर उससे लिए गए रुपये लौटाने को कहा गया। जिसके बाद आरोपी ने पीड़ित की बात को अनसुना कर दिया।

पीड़ित ने इस दौरान आरोपी को कहा कि आपके द्वारा जमीन की रजिस्ट्री के नाम पर धोखाधड़ी व विश्वासघात किया जा रहा है। पीड़ित को आरोपी द्वारा जमीन की रजिस्ट्री के नाम पर न तो लिए गए रुपये लौटाए गए औऱ न ही जमीन की रजिस्ट्री की गई। जिसके बाद पीड़ित ने भारतीय निबंधित डाक से अधिवक्ता के माध्यम वकालतन नोटिस भेजते हुए आरोपी से जमीन रजिस्ट्री के नाम पर लिए गए दो लाख 94 हज़ार रुपये लौटाने या नहीं तो जमीन की रजिस्ट्री करने का अनुरोध किया। बाबजूद इसके आरोपी के द्वारा न तो जमीन की रजिस्ट्री की गई औऱ न ही रुपये वापस किए गए।

पीड़ित ने कहा कि आरोपी के द्वारा जमीन रजिस्ट्री के नाम पर मेरे साथ 2 लाख 94 हजार की धोखाधड़ी व ठगी की गई है। पीड़ित रंजन कुमार के इसी आवेदन पर त्रिवेणीगंज पुलिस ने जांचोपरांत पीड़ित द्वारा दिये गए तमाम साक्ष्यों का बारीकी से अध्ययन करने के बाद आईपीसी की धारा 420 औऱ 406 के तहत थाना कांड संख्या 22/2022 दर्ज करते हुए आरोपी ठग उमेश कुमार भगत को गिरफ्तार कर अनुमंडलीय अस्पताल त्रिवेणीगंज में कोविड टेस्ट कराने के बाद न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है।

रिपोर्ट-  संतोष कुमार सुपौल
 

Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें व टेलीग्राम ग्रुप को जॉइन करने के लिए  यहां क्लिक करें।