logo
जमीनी विवाद: जदिया व त्रिवेणीगंज थाना परिसर में भूमि विवाद निपटारे को लेकर लगा जनता दरबार
 

सुपौल। जमीनी विवाद के निपटारे के लिये त्रिवेणीगंज प्रखंड के जदिया और त्रिवेणीगंज थाना परिसर में आज जनता दरबार लगाया गया। जदिया थाना में त्रिवेणीगंज सीओ दिनेश प्रसाद और पुलिस पदाधिकारी ने आज दिन के ग्यारह बजे के बाद जनता दरबार की कार्रवाई शुरू किए। तो वही त्रिवेणीगंज थाना परिसर में रेवेन्यू पदाधिकारी और एसएचओ संदीप कुमार सिंह की मौजूदगी में जमीनी विवाद निपटारे की कार्यवाई शुरू की गई। इस दौरान दोनों थाना क्षेत्र के अलग-अलग गाँवों से फरियादी जनता दरबार में जमीन संबंधी विवादों को सुलझाने थाना पहुंचे।

अंचलाधिकारी दिनेश प्रसाद द्वारा जदिया थाना कुल 8 जमीनी विवाद के मामले को बारीकी से सुना। जिसमें पर्याप्त साक्ष्यों का अवलोकन व सभी कागजातों का गहन अध्ययन करने के बाद पुराने 3 मामलों का निष्पादन किया गया तो वहीं पुराना शेष बचे 3 औऱ नया दो जमीनी विवाद के मामलों की सुनवाई के लिए अगली तारीख निर्धारित की गई है।

साथ ही त्रिवेणीगंज थाना परिसर में रेवेन्यू पदाधिकारी औऱ एसएचओ संदीप कुमार सिंह की मौजूदगी में जमीनी विवाद निपटारे को लेकर लगाए गए जनता दरबार में एक दर्जन से ज्यादा मामलों को सुना गया। जिसमें पुराने दो मामलों का निष्पादन किया गया तो वहीं पुराने 8 जमीनी विवाद के मामलों में सुनवाई की अगली तिथि निर्धारित की गई।इसके साथ ही 16 नए जमीनी विवाद के मामलों के लिए नोटिस जारी किए गए औऱ सुनवाई की तिथि निर्धारित की गई।जनता दरबार में थाना क्षेत्र के कई लोग अपनी-अपनी जमीन से संबंधित समस्याओं को लेकर पहुंचे।

इस मौके पर जानकारी देते हुए अंचलाधिकारी दिनेश प्रसाद ने बताया कि आज भूमि विवाद से संबंधित जदिया औऱ त्रिवेणीगंज थाना क्षेत्र मिलाकर कुल 36 जमीनी विवाद के मामलों को सुना गया। जिसमें 18 मामले पुराने शामिल है इस मामलों से संबंधित सभी लोगों को नोटिस किया गया तो वही बाकि बचे 18 मामलों में से 5 ज़मीनी विवाद के मामलों का निष्पादन किया गया। यानि कुल 13 मामले में संबंधित लोगों की अनुपस्थिति व पर्याप्त साक्ष्य नहीं देने के कारण मामले में सुनवाई की अगली तिथि अगले शनिवार को दी गई।

पूर्व में दोनों पक्षों को नोटिस भेजकर ससमय उपस्थित होने का निर्देश दिया गया था। इस दौरान राजस्व कर्मचारी भी मौके पर मौजूद थे।

बता दें कि राज्य सरकार के निर्देशानुसार छोटे स्तर पर जमीनी विवाद के निपटारे के लिए प्रत्येक शनिवार को थाना परिसर में सीओ और थानाध्यक्ष की उपस्थिति में जनता दरबार आयोजित करने का निर्देश है।सीओ दिनेश कुमार ने कहा कि वरीय अधिकारियों से प्राप्त निर्देश के आलोक में जमीनी विवाद का मामला थाने में लगाये जाने वाले जनता दरबार मे सुलझाया जा सकता है। इसमें दोनों पक्षों को बुलाया जाता है। मामले को बारीकी पूर्वक सुना जाता है साक्ष्यों का अध्ययन किया जाता है और लोगों के ज़मीनी विवाद से जुड़े मामलों का निष्पादन किया जाता है।

रिपोर्ट-  मणिकांत कुमार मोनू त्रिवेणीगंज (सुपौल)
 

Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें व टेलीग्राम ग्रुप को जॉइन करने के लिए  यहां क्लिक करें।