logo
शहर के जाने-माने डॉक्टर का हुआ निधन पर शोक सभा किया आयोजन
 

सुपौल :: त्रिवेणीगंज के अनुमंडल के अस्पताल में शोक सभा का आयोजन किया गया। बता दे कि त्रिवेणीगंज अनुमंडलीय   अस्पताल के पूर्व प्रभारी उपाधीक्षक डॉक्टर रामप्रीत रमन का नेपाल के न्यूरो अस्पताल में इलाज के क्रम में आज सोमवार को सुबह करीब 5:00 बजे अंतिम सांस लिए बताया गया कि डॉक्टर रामप्रीत रमन पन्द्रह रोज से नेपाल के अस्पताल में इलाजरत थे। पूर्व में डॉक्टर रामप्रीत रमन त्रिवेणीगंज अनुमंडलीय के अस्पताल से मधेपुरा सदर अस्पताल में एस सी एम ओ के पद पर इनका स्थानांतरण किया गया था। जो कि दिसंबर माह  2021 को सेवानिवृत हुए थे। तब से यह बीमार चल रहे थे। आज सुबह अचानक इनकी मृत्यु की खबर सुनकर परिजनों में कोहराम सा मच गया। यह मूल रूप से दरभंगा जिले के कटहलबाड़ी निवासी हैं इनका घर वर्तमान में सुपौल जिले के त्रिवेणीगंज प्रखंड के पंचायत बभंगामा टोला लाल पट्टी वार्ड नंबर 16 में भी अवस्थित है डॉक्टर रामप्रीत रमन को एक लड़का व एक लड़की है। लड़का पंकज कुमार जो वर्तमान में मधेपुरा जिले के कुमारखंड ब्लॉक में प्रखंड विकास पदाधिकारी के पद पर है। और दमाद डॉक्टर भोग नारायण पासवान जो सुपौल जिले के पिपरा प्रखंड के थुमहा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर डॉक्टर के पद पर कार्यरत हैं। 

त्रिवेणीगंज अनुमंडलीय अस्पताल में प्रभारी उपाधीक्षक के अध्यक्षता में अस्पताल के कर्मियों के साथ एक शोक सभा का आयोजन किया गया। इस आयोजन में 10 मिनट का मौन व्रत रखा गया मौके पर अस्पताल प्रभारी उपाधीक्षक डॉक्टर आरपी सिन्हा ने बताया डॉक्टर रामप्रीत रमन को हम लोगों के बीच चले जाने से अपूरणीय क्षति हुई है इनकी भरपाई नहीं किया जा सकता है इन्होंने बताया की डॉक्टर साहब सरल स्वभाव के थे और हम लोग को अच्छे से दिशा निर्देश दिया करते थे। और बहुत कुछ उनसे सीखने का मौका मिला। मौके पर प्रखंड लेखापाल सुभाष सिंह, स्वास्थ्य प्रबंधक प्रेमचंद्र रंजन, परिवार कल्याण सलाहकार इश्तियाक अहमद, सुपरवाईजर मदन सिंह, जीएनएम मुन्नी कुमारी, मधुबाला, एवं अस्पताल के सारे कर्मी मौजूद थे।


रिपोर्ट: संतोष कुमार

Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें व टेलीग्राम ग्रुप को जॉइन करने के लिए  यहां क्लिक करें।