logo
सड़क जाम : किसानों ने 5 घन्टे किया NH327E को जाम,जामस्थल पर नहीं पहुँचे अधिकारी,पुलिस ने कराया शांत
 

सुपौल : यूरिया खाद की किल्लत यहां किसानों के लिए किसी मुसीबत से कम नहीं है रात-रात भर जगकर दुकानों के आगे लाइनों में खड़े रहने के बाबजूद भी सुबह में दुकान खुलते ही खाद के बजाय किसानों को निराशा हाथ लगती है आज त्रिवेणीगंज में यूरिया खाद की किल्लत से जूझ रहे किसानों ने फिर हंगामा किया।त्रिवेणीगंज बाजार के पुरानी स्टेट बैंक चौक के समीप सुबह करीब 5 बजे जदिया त्रिवेणीगंज मार्ग NH327E को जामकर पाँच घंटों तक यातायात को पूर्णतः बाधित कर दिया। पाँच घंटों तक कोई अधिकारी इनकी समस्या को सुनने के लिए जाम स्थल पर नहीं पहुँचे।इस दौरान जामस्थल पर प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न गाँव लहरनियां,मिरजवा,लगुनिया,चटगांव हरिहरपट्टी,
लतौना,मचहा आदि से त्रिवेणीगंज बाजार यूरिया खाद के लिए पहुंचे किसान रामखेलन यादव,रविन्द्र यादव,गुलाब देवी,रेणु देवी,रमेश यादव आदि ने आरोप लगाया कि कुशवाहा खाद बीज भंडार त्रिवेणीगंज के यहां रात से ही लाइन में खड़े होकर सुबह दुकान खुलने का इंतजार किए औऱ जब ये सुबह में आये तो दुकानदार द्वारा चार सौ-पाँच सौरुपये में अपने चहेते के हाथों खाद बेच दिया गया और हमलोगों को खाद नहीं दिया गया।अपने चहेते के हाथों यूरिया खाद की कालाबाजारी कर खाद दुकानदार अपनी दुकान को बंद कर चल दिए।इन्हीं बातों से नाराज किसानों ने आज फिर सुबह 5 बजे जदिया त्रिवेणीगंज मार्ग को त्रिवेणीगंज बाजार के पुरानी बैंक चौक पर जाम कर यातायात पूर्णतः बाधित कर दिया।किसानों ने 5 घंटों से भी ज्यादा देर तक NH327E को जाम कर यातायात बाधित कर दिया।इस दौरान चौंकाने वाली बात यह देखी गई कि पाँच घंटों तक जामस्थल पर कोई अधिकारी नहीं पहुँचे औऱ न ही उनकी समस्याओं को जानना मुनासिब समझे। पाँच घंटे बाद त्रिवेणीगंज पुलिस की टीम मौके पर पहुंची औऱ किसानों को काफी समझाने का प्रयास किया औऱ फिर पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद किसानों को समझाने में कामयाब हुए।जिसके बाद किसानों ने NH327E से जाम को समाप्त किया

रिपोर्ट:-- संतोष कुमार सुपौल

Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें व टेलीग्राम ग्रुप को जॉइन करने के लिए  यहां क्लिक करें।