logo
प्रतिबंधित चाइना डोर ने एक युवती की ले ली जान
 

उज्जैन। आज दोपहर शहर में जिसने भी है सुना कि चाइना की डोर में एक युवती की जान ले ली है तो हर कोई हतप्रभ रह गया। शहर में चाइना की डोर ने मकर संक्रांति पर्व की खुशियां एक परिवार के लिए मातम में बदल दी। चाइना डोर की चपेट में आकर 18 साल की युवती की शनिवार को मौत हो गई।

प्रतिबंधित चाइना डोर उसके गले की गहराई तक पहुंची जिससे गले की नस कट गई। खून इतना बहा कि सड़क लहूलुहान हो गई और अस्पताल ले जाने पर उपचार शुरू करने से पहले ही छात्रा की मौत हो गई।

प्राप्त जानकारी के अनुसार उज्जैन जिले के महिदपुर तहसील के गांव कोकला खेड़ी निवासी 20 वर्षीय छात्रा नेहा आंजना इंदिरा नगर में अपने मामा के यहां पढ़ाई के लिए की रह रही थी। शनिवार दोपहर वह अपनी बहन के साथ कोचिंग जा रही थी। इसी दौरान जीरो पॉइंट ब्रिज से गुजरते समय अचानक आई चाइना डोर ने उसके गले को काटते हुए सरसरकर निकली। राहगीरों ने घायल युवती को समीपस्थ पाटीदार हॉस्पिटल पहुंचाया जहां डॉक्टरों ने घायल नेहा को उपचार के लिए पाटीदार अस्पताल ऑपरेशन थिएटर में पहुंचाया लेकिन उपचार देने से पहले ही नेहा की मृत्यु हो गई थी ।

 पुलिस ने प्रतिबंधित चाइना डोर बेचने वालों की एक बार फिर धरपकड़ शुरू कर दी है।

Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें व टेलीग्राम ग्रुप को जॉइन करने के लिए  यहां क्लिक करें।