logo
आग की चपेट में आने से बकरियों की मौत
 

कायमगंज/ फर्रुखाबाद 2 जनवरी 2022

थाना क्षेत्र कंपिल के गांव उस्मान नगर मजरा रसीदपुर निवासी सुरेशचंद पुत्र अजुध्दीप्रसाद नाई के छप्पर नुमा घर में कल देर शाम अचानक आग लग गई। जब तक लोगों ने आग बुझाने का प्रयास किया, तब तक आग विकराल रूप धारण कर चुकी थी। छप्पर के नीचे सर्दी से बचाव के लिए चार बकरियां जिनमें एक बकरा था। बताया जा रहा है कि उनकी कीमत 50 हजार रूपय थी।  इनमें से एक बकरा तथा दो बकरी मौके पर ही झुलस कर मर गई। जबकि चौथी बकरी झुलस कर गंभीर रूप से घायल होने के कारण गंभीर स्थिति में पहुंच चुकी है।

बताया गया कि आग की लपटें उठती देख ग्रामीणों ने पानी आदि डालकर कड़ी मशक्कत के बाद जब तक आग पर काबू पाया, तब तक छप्पर के नीचे बंधी बकरी चलकर मर चुकी थी। आग लगने के कारण बकरियों के अलावा वहां रखी चारपाई विस्तर रजाई गद्दे आदि गृहस्थी का सामान भी जलकर राख की ढेरी में बदल गया।

ग्रामीणों ने बताया कि सुरेश के छप्पर में लगी आग पड़ोसी के घर को  भी चपेट में ले रही थी। पर ग्रामीणों ने दूसरे आवास को पानी मिट्टी डालकर तथा उसके ऊपर रखा छप्पर हटाकर आग की चपेट में आने से बचा लिया। सुरेश का सपना था कि पाल पोस कर जब उसका यह पशुधन बड़ा होगा । तो उसे कुछ आर्थिक सहायता मिल जाएगी। लेकिन उसके पहले ही आग की लपटों में सब खत्म हो गया।

सुरेश अपने परिवार का गुजारा बकरी पालन तथा मेहनत मजदूरी करके करता था। अब उसके सामने बुरी स्थिति पैदा हो गई है। घटना के बाद से ही उसके परिवार में दुख का माहौल दिखाई दे रहा है। घटना की सूचना तहसील प्रशासन को घटना के बाद ही दे दी गई थी। किंतु समाचार लिखे जाने तक क्षेत्रीय लेखपाल अथवा कोई अन्य अधिकारी अग्निकांड के नुकसान का आंकलन करने मौके पर नहीं पहुंचा था।

मौके पर पहुंचे ग्राम प्रधान ने बताया कि उन्होंने भी अपने स्तर से हल्का लेखपाल शुभम तिवारी तथा पशु चिकित्सक को सूचना दी है। उनके अनुसार दोनों लोग संभवत यहां आकर आवश्यक कार्यवाही अवश्य करेंगे।

Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें व टेलीग्राम ग्रुप को जॉइन करने के लिए  यहां क्लिक करें।