logo
आजमगढ़ : पुलिस ने किया हत्या का पर्दाफाश, तीन गिरफ्तार
 
बाइक मैकेनिक चंद्रशेखर को ईंट भट्ठा मजदूरों ने गाली देने पर गला घोंटकर मारा

आजमगढ़। गंभीरपुर थाने की पुलिस ने सोमवार की सुबह कोहरौडा़ गांव स्थित ईंट भट्टे के समीप मिले बाइक मकैनिक के शव के मामले में 24 घंटे के भीतर उसकी हत्या का खुलासा करते हुए तीन ईंट भट्ठा मजदूरों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए सभी आरोपी झारखंड प्रांत के निवासी बताए गए हैं। घटना का कारण मृतक और हत्यारों के बीच गाली-गलौज होना बताया गया है।
गौरतलब है कि गंभीरपुर थाना क्षेत्र के कोहरौड़ा गांव स्थित ईंट भट्टे के समीप सोमवार की सुबह क्षेत्र के खरांटी ग्राम निवासी 45 वर्षीय चंद्रशेखर चौहान का शव बरामद किया गया। 

इस मामले में मृतक के चाचा रूपचंद चौहान ने स्थानीय थाने में हत्या की आशंका जताते हुए अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कराया। घटना की जांच में जुटी पुलिस को जानकारी मिली कि बीते शनिवार को नववर्ष के दिन घर से बाजार के लिए निकले पेशे से बाइक मैकेनिक चंद्रशेखर चौहान का ईंट भट्टे पर काम करने वाले कुछ मजदूरों से विवाद हुआ था। इस बात की पुष्टि के लिए पुलिस ने मुखबिर का सहारा लिया। मंगलवार को जरिए मुखबीर पुलिस को सूचना मिली कि नववर्ष के आगमन की खुशी में ईंट भट्ठे पर शराब के नशे में मृतक की कुछ लोगों के बीच गाली-गलौज एवं मारपीट हुई थी। पुलिस ने विवाद की जड़ में रहे ईंट भट्ठा मजदूरों पर नजर गड़ाई और मंगलवार को दिन में भागने की फिराक में रहे तीन मजदूरों को मोहम्मदपुर बाजार से हिरासत में ले लिया। 

थाने में लाकर पकड़े गए लोगों से की गई पूछताछ के बाद असलियत पता चली कि मृतक की ईंट भट्टे पर मजदूरों के साथ अक्सर दावत पार्टी होती थी। बीते शनिवार की रात मृतक चंद्रशेखर मोहम्मदपुर बाजार से नशे की हालत में ईंट भट्टे पर पहुंचा और वहां किसी बात को लेकर वहां काम करने वाले तीन मजदूरों से उसका विवाद हो गया। अकारण गाली देने पर ईंट भट्ठा मजदूरों ने उसे मारापीटा और फिर गला घोंट कर उसे मार डाला। घटना के बाद आरोपी शव को ईंट भट्ठे के समीप झाड़ी में ले जाकर फेंक दिए। मंगलवार को इस वारदात में शामिल तीनों आरोपी भागने की फिराक में मोहम्मदपुर बाजार में वाहन का इंतजार करते समय पकड़ लिए गए। 

गिरफ्तार किए गए आरोपियों में अजय खलखो पुत्र याकूब ग्राम जोन्हा थाना अंगड़ा एवं मुकेश लाकड़ा पुत्र शिबू ग्राम सिदरौल टांगड़टोली थाना नामकून जनपद रांची तथा पिंटू बिहोर पुत्र लूरक ग्राम कोरीदेल्हो थाना सिमरिया जनपद चतरा प्रांत झारखंड के निवासी बताए गए हैं। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ हत्या का अभियोग पंजीकृत कर लिया है।

Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें व टेलीग्राम ग्रुप को जॉइन करने के लिए  यहां क्लिक करें।