logo
बांग्लादेशी घुसपैठियों संग मुठभेड़ में सीमा पर शहीद हुआ आजमगढ़ का लाल
 

आजमगढ़। पश्चिम बंगाल से सटे बांग्लादेशी सीमा पर सर्च ऑपरेशन के दौरान रविवार रात करीब 1.00 बजे बीएसएफ जवान विवेक तिवारी की अपनी टीम के साथ बांग्लादेशी घुसपैठियों से मुठभेड़ हो गई।

मुठभेड़ में विवेक तिवारी गंभीर रूप से घायल होने के कारण शहीद हो गए।

बताते चलें कि विवेक तिवारी 24 वर्ष पुत्र हरी नारायण तिवारी निवासी बिलरियागंज थाना क्षेत्र के महवी शेरपुर गांव निवासी 2 वर्ष पूर्व बीएसएफ में भर्ती हुए थे। 7 माह पहले पश्चिम बंगाल में पोस्टिंग हुई। इसके पहले जम्मू-कश्मीर में थे। शहीद विवेक तिवारी की पत्नी मनीषा और 2 वर्षीय पुत्री है। घटना की सूचना मिलते ही परिवार और गांव में शोक की लहर दौड़ पड़ी। पार्थिव शरीर मंगलवार सुबह गांव पहुंचेगा।

Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें व टेलीग्राम ग्रुप को जॉइन करने के लिए  यहां क्लिक करें।