logo
कानपुर मेट्रो ने यात्रियों को लौटाया उनका खोया हुआ सामान, यात्रियों ने प्रशंसा में लिखे पत्र
 

कानपुर। कानपुर मेट्रो अपने सर्वोत्तम यात्री सेवाओं के साथ-साथ अपनी कर्त्तव्यनिष्ठा और यात्रियों के प्रति सहयोगपूर्ण रवैये के लिए भी सबकी वाहवाही अर्जित कर रहा है। 29 दिसम्बर से यात्री सेवा के आरंभ होने के बाद से अब तक 17 बार लोगों को उनके छूटे हुए सामान लौटाए गए हैं। ऐसे ही एक मामले में सुरक्षाकर्मियों ने शिवाजीनगर के उमेश चंद्र मिश्रा को उनका पर्स लौटाया जिसमें उनके ड्राइवेंग लाइसेंस और डेबिट कार्ड जैसे जरूरी दस्तावेज थे।

कानपुर मेट्रो की इस तत्परता और कार्यप्रणाली से प्रभावित होकर यात्री ने आभारस्वरूप पत्र लिख मेट्रोकर्मियों को धन्यवाद दिया। अपने पत्र में उमेश चंद्र मिश्रा ने कानपुर मेट्रो की कार्यप्रणाली की प्रशंसा की। उन्होंने कानपुर मेट्रो को यात्रियों की मदद करने के साथ साथ बेहतरीन सेवाएं प्रदान करने के लिए बधाई भी दी।

कानपुर मेट्रो से पहली बार यात्रा कर रहीं मीतू ने भी पत्र लिखकर अपनी यात्रा का अनुभव मेट्रो के साथ साझा किया। पत्र में उन्होंने लिखा है कि, ‘‘कानपुर में हो रहे इस बदलाव का साक्षी बन मुझे बहुत खुशी महसूस हो रही है। यात्रा के दौरान मेट्रो के अंदर का माहौल बहुत ही अच्छा था। मैंने एक छोटे बच्चे को मेट्रो से यात्रा करते देखा, जिसकी आँखों में कौतूहल था। आपसे प्रार्थना है कि विकास की यह रफ्तार कानपुर के बाकी हिस्सों तक भी पहुंचाएं।" 

उत्तर प्रदेश मेट्रो अपने यात्रियों के प्रति सहयोगपूर्ण रवैये के लिए जाना जाता है। लखनऊ मेट्रो में भी सराहनीय कार्यों के तहत उत्तर प्रदेश मेट्रो की टीम ने यात्रियों के छूटे हुए 8 लाख रुपये से अधिक नकद और लगभग 500 मोबाइल और लैपटॉप जैसे उपकरण लौटाये हैं। 

Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें व टेलीग्राम ग्रुप को जॉइन करने के लिए  यहां क्लिक करें।