logo
तीन साल पहले हुई थी महिला से छेड़छाड़, न्याय न मिलने पर थाने के सामने लगाई खुद को आग
 

मथुरा।  देश में छेड़छाड़ के मामले बढ़ते जा रहे हैं। कई बार प्रशासन की लापरवाही भी देखने को मिलती है। सही समय पर न्याय न मिलने से पीड़ित व्यक्ति को झेलना पड़ जाता है। ऐसा ही एक मामला मथुरा का सामने आया है। जहां महिला ने खुद को थाना के सामने अपने आपको आग के हवाले कर दिया।

मथुरा के राया थाना के सामने आयोजित समाधान दिवस पर एक महिला आग की चपेट में पहुंची। महिला की गंभीर हालत को देखते हुए उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। डॉक्टरों ने मामला गंभीर बताया और पीड़िता को आगरा रेफर कर दिया जहां रविवार दोपहर को पीड़िता की मृत्यु हो गई। 

महिला के पति का कहना हेै कि उसकी पत्नी के साथ तीन साल पहले 11 जुलाई 2017 को गांव के निवासी हरिचंद्र ने छेड़छाड़ की थी। पीड़िता के पति ने बताया कि थाना राया में रिपोर्ट दर्ज करवाई कई थी जिसमें किसी भी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई।

बताय जा रहा है कि मामले के आरोपी लगातार पीड़िता पर मुकदमा वापस लेने के लिए दवाब बना रहे थे। जानकारी के मुताबिक, प्रधान  के पिता सुरेश, वीरेंद्र, रिंकू और हरिचंद ने पीड़ित पक्ष पर मुकदमा वापस लेने को कहा और मुकदमा वापस न लेने पर देख लेने की चेतावनी भी दी।

धमकी देने वाले आरोपी प्रधान के पिता सुरेश को  पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। 

महिला के तीन छोटे-छोटे बच्चे हैं जिनका मां के बिना रो-रो के बुरा हाल हो गया है। घटना के बाद परिवार वालो में मातम छा गया है।

Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें व टेलीग्राम ग्रुप को जॉइन करने के लिए  यहां क्लिक करें।