logo
बेकाबू ट्रैक्टर की रफ्तार ने छीना जीवन साथी का साथ , हादसा देख पत्नी हुई बेहोश
 

उरई(jalaun)। तेज रफ्तार वाहन प्रतिदिन किसी न किसी के लिए मौत का सबब बनते हैं। लेकिन फिर भी इन वाहनों की अनियंत्रित रफ्तार पर ब्रेक नहीं लगता। मामला उत्तर प्रदेश के जनपद जालौन का है। जहां पर तेज रफ्तार ट्रैक्टर ने बाइक सवार को टक्कर मार दी जिससे युवक की दर्दनाक मौत हो गई।

क्या है पूरा मामला......

उत्तर प्रदेश के जनपद जालौन मैं ईंटा लादे हुए जा रहे ओवरलोड ट्रैक्टर को आगे बढ़ाने पर उसका अगला हिस्सा उठकर बाइक पैर बैठे युवक पर गिरा। जिससे बाइक समेत ट्रैक्टर के नीचे आकर दब गया । वहां मौजूद लोग जब तक युबक को निकालकर अस्पताल पहुंचे। तब तक युवक की दर्दनाक मौत हो गई। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमाॅर्टम के लिए भेज दिया । पुलिस ने ट्रैक्टर कब्जे में लिया जबकि ट्रैक्टर चालक मौके से भाग निकला। बताते चले कि जालौन नगर के दीनदयाल उपाध्याय चैराहा के आसपास ईंटा बेचने के लिए खड़े होने वाले ट्रैक्टर हादसे का सबब बन  रहे हैं। चैराहे के आसपास खड़े होने वाले ट्रैक्टरों से न केवल जाम की स्थिति बनती है बल्कि कई बार हादसे भी होते रहते हैं। 


कोतवाली क्षेत्र के ग्राम मलकपुरा निवासी मजदूर आशीष जाटव उर्फ बब्लू (26) पुत्र स्व. रमेशचंद्र रविवार की दोपहर गांव से घर गृहस्थी का सामान लेने के लिए पत्नी राखी व 6 महीने के पुत्र उमेश कुमार के साथ बाइक से जालौन आया था। जालौन में दीनदयाल उपाध्याय चैराहे के पास कल्लू ढाबा के सामने किनारे पर खड़ा होकर कुछ सामान लेने लगा। बाइक खड़ी होने पर उसकी पत्नी भी बच्चे के लेकर बाइक के पास ही खड़ी हो गई। उसके पीछे कुछ दूरी पर खडंजा लदा हुआ ओवरलोड ट्रैक्टर खड़ा था। सामान लेकर आशीष बाइक पर आया और बाइक स्टार्ट करने की कोशिश करने लगा। तभी पीछे से ट्रैक्टर चालक ने भी ट्रैक्टर स्टार्ट कर आगे बढ़ाया। ट्रैक्टर ओवरलोड होने की वजह से ट्रैक्टर का अगला हिस्सा आगे से उठ गया। जब तक लोग कुछ समझ पाते ट्रैक्टर का अगला हिस्सा बाइक पर बैठे आशीष पर गिरा। बाइक समेत आशीष ट्रैक्टर के नीचे ही दब गया।

आसपास मौजूद लोग उसे नीचे से निकालकर जब तक सीएचसी लेकर पहुंचे तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। सूचना पर मौके पर पहुची पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमाॅर्टम के लिए भेज दिया। बता दें, आशीष के परिवार में माता पिता की मृत्यु पूर्व में ही हो चुकी है। आशीष अपने पिता की इकलौती संतान था। पति के मौत को देखकर पत्नी भी बेहोश हो गई। पुलिस ने आशीष के चाचा कुमार को सूचना दी। जिसके बाद गांव के लोग भी वहां आ गए। जिसने भी घटना को सुना उसकी आंखें नम हो गई। उक्त संदर्भ में कोवताल सुनील सिंह ने बताया कि मृतक के शव को पोस्टमाॅर्टम के लिए भेजा गया है। अभी परिजनों की ओर से कोई तहरीर नहीं मिली है। ट्रैक्टर को कब्जे में लेकर कोतवाली में खड़ा कराया गया है। चालक मौके से भाग निकला है जिसकी तलाश की जा रही है।

रिपोर्ट : दीपू द्विवेदी  

Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें व टेलीग्राम ग्रुप को जॉइन करने के लिए  यहां क्लिक करें।