logo
महिला ने फांसी लगाकर दी जान, परिजनों में मचा कोहराम
 

कमालगंज फर्रुखाबाद। जनम-जनम का साथ 4 माह भी नही चला।  कमालगंज के ग्राम शेखपुर में मुईद शाह बीते वर्ष 27 अक्टूबर को हजारा को निकाह कर मुईद घर लाया था। दोनों ने सौ वर्षों तक साथ निभाने का वायदा किया था, लेकिन कुछ ऐसा हुआ कि सौ दिन भी नहीं कटे और हजारा ने दुपट्टे से फाँसी लगाकर जान दे दी।

कानपुर की डबल कॉलोनी में रहने वाली हजारा का 27 अक्टूबर को कमालगंज के ग्राम शेखपुर निवासी मुईद शाह से निकाह हुआ था। दोपहर बाद घर में मौका देख कर हजारा ने दुपट्टे से फांसी लगाकर जान दे दी, फांसी लगाने के लिए हजारा अपने कमरे के बड़े बक्से पर प्लास्टिक की बाल्टी रखकर खड़ी हो गई। महिला ने छत के कुंडे में दुपट्टे से गले में फांसी का फंदा डाला और नीचे लटक गई। ऊपर वाले कमरे में महिला की ननद व सास जरदोजी का कार्य कर रही थी । जब वह नीचे उतर कर आयी तो हजारा के शव को फांसी पर लटका देख कर चीखने लगी।

सूचना मिलने पर मुईद शाह घर पहुंचा, उसके बाद सीओ अजेय कुमार एवं थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर ने मामले की जांच पड़ताल की। पुलिस ने मृतका के परिजनों को फोन पर घटना की जानकारी दे दी, पुलिस परिजनों के आने का इंतजार कर रही है।

मुईद शाह ने बताया कि गुरुवार सुबह हम लोगों ने चाय पी और मैं काम से चला गया था। उसने पत्नी के द्वारा आत्महत्या करने का कारण नहीं बताया। पुलिस मामले की जांच पड़ताल कर रही है। वही परिजनों के आने का इंतजार कर रही है।


रिपोर्ट - जयपाल सिंह यादव, दानिश खान

Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें व टेलीग्राम ग्रुप को जॉइन करने के लिए  यहां क्लिक करें।