logo
महिला ने एंबुलेंस में बच्चे को दिया जन्म, आशा बहु की लापरवाही पर उठे सवाल
 

कायमगंज-फर्रुखाबाद। आशा बहू की लापरवाही के चलते महिला ने एंबुलेंस में बच्चे को जन्म दिया। ईएमटी ने डिलीवरी करा कर अस्पताल में कराया भर्ती। जानकारी के अनुसार थाना कंपिल क्षेत्र गांव नगला बीच निवासी रजनीश की 27 वर्षीय पत्नी सीता को तेज प्रसव पीड़ा हुई। मौके पर पहुंची एंबुलेंस ने महिला को नगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। महिला ने रास्ते में ही एक पुत्री को जन्म दे दिया। एंबुलेंस के ईएमटी शशिकांत ने सकुशल प्रसव कराया और महिला को नगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में लाकर भर्ती किया।

बताया गया है कि क्षेत्रीय आशा बहू को कई बार परिजनों ने संपर्क किया लेकिन आशा बहू वहां नहीं पहुंची जब तेज प्रसव पीड़ा हुई तब परिजनों ने एंबुलेंस को कॉल की मौके पर पहुंची एंबुलेंस महिला को लेकर नगर के सामुदायिक स्वास्थ्य पहुंच रही थी तभी रास्ते में महिला ने एक पुत्री को जन्म दे दिया। बहरहाल, जच्चा बच्चा दोनों सकुशल हैं, दोनों का इलाज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में चल रहा है।

बताते चलें, कायमगंज तहसील क्षेत्र की सभी आशा बहुएं पैसो के चक्कर में मरीज की तीमारदारी नहीं करती हैं। जबकि आशा बहू का काम है कि सबकी 1 तारीख से लेकर डिलीवरी तक महिला की सारी जांचें एवं डिलीवरी के अलावा सारी सुविधाएं मुहैया करवाए। इस निर्देश के बावजूद क्षेत्रीय आशा बहुएं अपने काम से नजर चुराते हुए टाइम पर नहीं पहुंचती है। अधिकांश महिलाओं की प्रसव रिपोर्ट भी कराने की जहमत नहीं उठाती। इस सब के बावजूद आए दिन इस तरह की घटनाएं सामने आती रहती हैं। जबकि सरकार एवं प्रशासन आशा बहुओं को पहले दिन से ही महिलाओं की जांच रिपोर्ट के अलावा सारी व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने की बात कहती है इस सब के बावजूद आशा बहुएं अपने काम से नजरअंदाज करते हुए अपने काम को अंजाम नहीं देती हैं।

इस संबंध में जब सीएमओ से फोन द्वारा वार्ता की गई तो उनका फोन नॉट रिचेविल बताता रहा।


रिपोर्ट- जयपाल सिंह यादव, दानिश खान

Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें व टेलीग्राम ग्रुप को जॉइन करने के लिए  यहां क्लिक करें।