symbolic image

जिनेवा: विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा है कि काेरोना वायरस वैक्सीन की अलग-अलग कंपनियों की डोज लिया जाना खतरनाक हो सकता है संगठन की प्रमुख वैज्ञानिक सौम्या स्वामीनाथन ने सोमवार को ऑनलाइन ब्रीफिंग में कहा कि अलग-अलग कंपनियों की कोविड वैक्सीन को मिलाने से जुड़े वैज्ञानिक आंकड़े और साक्ष्य हमारे पास नहीं हैं। इसके प्रभाव के बारे में बहुत कम डेटा उपलब्ध है।

डॉ स्वामीनाथन ने कहा कि कोरोना वायरस वैक्सीन मिलाने के क्या नतीजे हो सकते हैं इसके बारे में किसी तरह का डेटा उपलब्ध नहीं है। इसके मद्देनजर सावधानी बरतने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि यदि अलग-अलग देशों के लोग खुद तय करने लगेंगे कि कब कौन सी डोज लेनी तो अराजक स्थिति पैदा हो जाने की आशंका है।

अमेरिका में तेजी से फैल रहा है कोरोना का नया स्वरूप

उन्होंने कहा कि अलग-अलग कंपनियों की डोज लेने के बारे में अध्ययन चल रहा है, नतीजों का हमें इंतजार करना चाहिए।