वृंदावन(मथुरा)- बहुत गहरी हैं भारतीय संस्कृति की जडेँ- कमलेश कुमार पाठक श्री धाम वृंदावन के पावन जमुना तट पर स्थित कुंभ पूर्व वैष्णव बैठक धार्मिक समारोह में उत्तर प्रदेश पर्यटन विभाग एवं उत्तर प्रदेश ब्रज तीर्थ विकास परिषद के संयुक्त सहयोग से निर्मित सांस्कृतिक पंडाल में उत्तर प्रदेश संस्कृति विभाग के द्वारा आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम में आज शाम को महोबा से आए शरद अनुरागी एवं उनके साथियों द्वारा सुंदर आल्हा गायन की प्रस्तुति हुई।

जिसे सुनकर सभी श्रोताओं में आनंद की लहर दौड़ गई इस ग्रुप द्वारा जब महोबा युद्ध का मंचन किया तब सभी में जोश और रोमांच भर गया कार्यक्रम में मथुरा के जगदीश बृजवासी द्वारा फाग गायन जिसमें फाग खेलन बरसाने आए हैं नटवर नंद किशोर एवं मेरे तो गिरधर गोपाल मीरा का भजन एवं संतों की वाणी का पद गायन प्रस्तुत किया गया वृंदावन के विनय कृष्ण गोस्वामी के द्वारा श्रीकृष्ण नाटिका की प्रस्तुति की गई जिसमें उन्होंने कृष्ण जन्म से लेकर द्वारका तक की लीला का मंचन प्रस्तुत किया उनके द्वारा कृष्ण जन्म उत्सव और गोकुल गमन तथा यशोदा का श्री कृष्ण के प्रति वात्सल्य भाव मनोरम प्रस्तुति की गई कार्यक्रम में श्रीराम शर्मा निमाई के द्वारा गोपी चीर हरण लीला का मंचन किया गया इस अवसर पर संस्कृति विभाग उत्तर प्रदेश के कार्यक्रम अधिशासी कमलेश कुमार पाठक ने कहा कि हमारी भारतीय संस्कृति की जड़ें बहुत गहरी एवं समृद्धि सालीहैं इन्हें समझने के लिए हमें सालों लग जाएंगे हमारी सरकार अपने प्रदेश के विभिन्न अंचलों के लोक गायन सांस्कृतिक विरासत एवं लोक गायकों को संरक्षित एवं उनके उन्नयन के लिए सदैव तत्पर है और रहेगी इस अवसर पर पर समाजसेवी देवेंद्र शर्मा ने कहा कि लोक गायकों के कारण प्रदेश की लोक संस्कृति संरक्षित एवं सुरक्षित है हम चाहते हैं कि प्रदेश की विभिन्न अंचलों की लोक संस्कृति को जीवित रखने के लिए हमें लोक कलाकारों को प्रोत्साहन देना होगा एवं जगह जगह इन कलाकारों को मंच देना होगा कार्यक्रम में केके पाठक सतीश चंद दीक्षित रजत शुक्ला के द्वारा सभी कलाकारों का पटका उड़ा कर सम्मान किया गया कार्यक्रम में राम विनोद भट्ट ममता झा डॉक्टर बी बी चतुर्वेदी संजय शर्मा कन्हैया लाल शर्मा डॉ विनोद बनर्जी अनूप शर्मा ब्रजमोहन गिरी आदि उपस्थित थे कार्यक्रम का संचालन ज्योति शर्मा तथा धन्यवाद ज्ञापन देवेंद्र शर्मा ने किया,

रिपोर्ट :- राहुल ठाकुर