इटावा :- गलत दिशा में गाड़ी चलाना एक तो अपने लिए ही खतरा होता है और लोग फिर भी नहीं मानते। खुद खतरा उठाकर दूसरों को भी नुकसान पहुंचा देते हैं। थोड़ी सी जल्दी के कारण प्रतिदिन बहुत लोग काल के आगोश में समाते हैं। ताजा मामला उत्तर प्रदेश के इटावा जनपद के जसवंतनगर थाना क्षेत्र का है। जहां पर गलत दिशा में आ रही कार ने एक बाइक सवार को टक्कर मार दी जिससे बाइक सवार की मौके पर ही मौत हो गई। घटना की जानकारी पुलिस को मिली मौके पर पहुंच कर पुलिस ने अपना फर्ज निभाया। लेकिन कुछ स्थानीय नासमझ ग्रामीणों ने पुलिस पर ही पथराव कर दिया। मामला जसवंत नगर थाना क्षेत्र के मलाजनी का है। जहां गलत दिशा में आ रहे कार चालक ने एक बाइक सवार को टक्कर मार दी। जिससे उसकी मौत हो गई।घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है तथा वैधानिक कार्यवाही की जा रही है।

जरा सोचिए

जरा सा सोचिए कि हादसे का कारण पुलिस थी क्या जो ग्रामीणों ने पुलिस को निशाना बना लिया। सोचने वाली बात तो यह है कि आखिर कब तक लोग पुलिस को गलत सोचते रहेंगे। हादसा कार चालक की गलत दिशा में आने के कारण से हुआ और लोगों ने निशाना वहां पहुंचे बेकसूर दरोगा भानु प्रताप को बना लिया। सोच को बदलिए पुलिस खुद ब खुद बदल जाएगी। यह जो हादसा हुआ है वह है कार चालक की जल्दबाजी में गलत दिशा के कारण आने से हुआ। ऐसे हादसों में पुलिस अपना फर्ज पूरा करने घटनास्थल पर पहुंचती है और कुछ ना समझ लो हमारी पुलिस को ही निशाना बना लेते हैं। यह सरासर गलत है क्योंकि जो हादसा आज हुआ है वह पुलिस की गलती नहीं बल्कि कार चालक के गलत दिशा में आने के कारण से हुआ है।

रिपोर्ट : शिवम दुबे