कोरबा: दर्री थाना क्षेत्र अंतर्गत आने वाले एचटीपीपी के छठ घाट में उस वक्त हड़कंप मच गया जब एक साथ तीन युवकों की लाश  देखा गया।
जानकारी के मुताबिक प्रत्यक्षदर्शियों की माने तो तीनों युवक सुबह लगभग 9:00 बजे छठ घाट पहुंचे व आपस में जाम छलका रहे थे। कुछ देर बाद वे जमीन पर अलग अलग स्थान पर लेट गए। वही छठ घाट पर निस्तारी करने आए लोगों की नजर उन पर पड़ी ,तब तक मौत हो चुकी थी ।

तत्काल इसकी सूचना दर्री थाना प्रभारी को दी गयी।घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर बालको थाना प्रभारी ,रामपुर चौकी अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक भी मौके पर पहुंचे। जहां डॉग स्कॉट की मदद भी मांगी गई है।

घटना कोरबा जिले के सीएसईबी कॉलोनी दर्री से लगे छठ घाट की है, जहां तीन लोगों की संदिग्ध अवस्था में शव मिला है। मरने वालों की पहचान राजू नगर निवासी मोहन जांगड़े, अशोक दास महंत और रूमगड़ा निवासी धन दास के रूप में हुई है। घटना स्थल पर कपड़ा धोने वाला इजी लिक्विड और डिस्पोजल मिले हैं।


जानकरी के मुताबिक शुक्रवार की रात को मोहन जांगड़े और अशोक दास बालको गए थे, वहां वापस घर लौटते वक्त रूमगड़ा चौक में चेकिंग के दौरान पुलिस ने इनकी गाड़ी जब्त कर ली थी, जिसके बाद दोनों रूमगड़ा में ही रुक गए। इसके बाद शनिवार की सुबह 9 बजे दोनों राजू नगर पहुंचे और नाश्ता कर धन दास के साथ तीनों घर से बाइक पर निकले थे। कुछ ही घंटे बाद लोगों से सूचना मिली कि छठ घाट में तीनों का शव पड़ा है। घटना स्थल पर दो शव एक साथ मिले और तीसरा शव करीब 40 कदम दूर मिला है।


इस मामले में पुलिस का कहना है कि तीनों की मौत जहरीला पदार्थ पीने या खाने से हुई है, क्योंकि इन लोगों ने कुछ खाया है और पीया भी है। हो सकता है इसमें कुछ जहरीला पदार्थ मिला हो। तीनों शव का पंचनामा कर पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया गया है।

रिपोर्ट: प्रकाश झा