कानपुर : इंसान सबसे ज्यादा अपने दोस्तों पर ही भरोसा करता है। और कहते हैं ना कि दोस्त कभी धोखा नहीं देते दोस्ती का बंधन एक अटूट बंधन होता है। लेकिन आज कुछ यूं हुआ कि आज की घटना को देखकर एक जमाने का गाना याद आ गया। गाने के बोल है कि दुश्मन ना करे दोस्त ने वो काम किया है। उम्र भर का गम हमें इनाम दिया है। ऐसा ही एक बार क्या आज कानपुर के बर्रा थाना क्षेत्र में सामने आया है। जहां पर दोस्त की दोस्ती पर एक बार फिर दाग लगा है। पटना कानपुर नगर के बर्रा थाना क्षेत्र की है। आपको बता दें कि बर्रा थाना क्षेत्र निवासी प्रभाकर अपने दोस्तों के साथ घूमने के लिए निकले हुए थे।

लेकिन जब वह देर रात घर नहीं पहुंचे तो परिजनों को चिंता हुई और उन्होंने प्रभाकर की खोजबीन शुरू की लेकिन जब उनको कुछ प्रभाकर का पता नहीं चला तो उन्होंने पुलिस से मदद की गुहार लगाई। पुलिस ने मामला दर्ज कर कार्रवाई करते हुए। मामले की पड़ताल शुरू की और मृतक के दो दोस्तों को गिरफ्तार कर उनसे गहनता से पूछताछ की गई। पुलिस द्वारा पूछताछ में गिरफ्तार मृतक के दोस्तों ने जब घटना के बारे में बताया तो सभी के पैरों तले जमीन खिसक गई। मृतक युवक के दोनों दोस्तों ने बताया कि उन्होंने अपने दोस्त को मौत के घाट उतार दिया है। पुलिस दोनों युवकों की निशानदेही पर जा पहुंची तो वहां पर से पुलिस ने प्रभाकर के शव को बरामद किया। प्रभाकर का शव बिधनू थाना क्षेत्र के अंतर्गत रिंद नदी के पास से पुलिस को बरामद हुआ। पुलिस ने मृतक की बाइक भी आरोपियों से बरामद कर ली है और गहनता से पूछताछ की जा रही है।

आपको बता दें कि घटना से संबंधित जानकारी देते हुए , डॉक्टर प्रीतिंदर सिंह डीआईजी ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि बर्रा थाना क्षेत्र के अंतर्गत एक युवक अपने दोस्तों के साथ घूमने गया था और घर वापस नहीं लौटा पुलिस ने घटना पर तुरंत कार्रवाई करते हुए । टीमों का गठन कर युवक की तलाश की एवं युवक के दो दोस्तों को गिरफ्तार कर उनसे जब गहनता से पूछताछ की गई, तो उन्होंने घटना का खुलासा कर दिया और बताया कि उन्होंने ही अपने दोस्त को मौत के घाट उतारा है। पुलिस नेआरोपियों की निशानदेही से युवक का शव बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और आरोपी युवकों से पूछताछ कर रही है।