जयपुर(ग्रामीण):: कहते हैं कि जब जिले की बागडोर किसी ऐसे शख्स के हाथ में हो जो निपुण और अनुभवी हो तो फिर जनपद में शातिर अपराधी हो या फिर डमी परीक्षार्थी कोई भी सफल नहीं हो सकता। आज यही देखने को मिला राजस्थान के जयपुर ग्रामीण क्षेत्र में राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (REET)-2021 की परीक्षा आयोजति की गई। जिसमें जिला जयपुर ग्रामीण क्षेत्र में 102 परीक्षा केन्द्रो पर लगभग 48,435 परीक्षार्थी भाग लेने थे। रीट परीक्षा, 2021 के सफल संचालन एवं माकूल कानून व्यवस्था जिला पुलिस अधीक्षक शंकर दत्त शर्मा की निगरानी में विशेष रुप से परीक्षा केंद्रों पर नजर रखी गई। जिससे की कोई भी कुछ गलत ना कर सके। कहते हैं कि आप कितने भी शातिर भले ही हो लेकिन कानून के लंबे हाथों से नहीं बच सकते। पुलिस अधीक्षक शंकर दत्त शर्मा के निर्देशन पर संपूर्ण जनपद की पुलिस परीक्षा केंद्रों पर विशेष निगरानी रखे हुए थी। नकल करने व करवाने वाले संदिग्धों पर पैनी नजर रखने के लिए लगभग 2,000 पुलिस जाप्ता नियोजित किया गया। इसके अतिरक्त समस्त अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, को सैक्टर पुलिस अधिकारी व समस्त पुलिस उप अधीक्षक को प्रभारी अधिकारी नियुक्त किया गया एवं समस्त थानाधिकारीगण एवं अन्य तैनात पुलिस अधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्र में अधिकारी नियुक्त किया और सभी को अपने क्षेत्र में विशेष निगरानी और सतर्कता बरतने के स्पष्ट दिशा-निर्देश दिये गये थे।


कानून के लंबे हाथों में चढ़े डमी परीक्षार्थी

राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (REET) 2021 को पारदर्शिता से करवाने के लिए परीक्षार्थियों की कड़ी चैकिंग कर, परीक्षा केन्द्र में प्रवेश करवाया गया। पुलिस की कड़ी निगरानी के चलते आज दिनांक 26.09.2021 को धर्मेन्द्र कुमार यादव, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (मुख्यालय) के निर्देशन में संदीप सारस्वत, वृत्ताधिकारी, गोविन्दगढ के सुपरवीजन में सीता यादव, पुलिस निरीक्षक के नेतृत्व में थाना गोविन्दगढ क्षेत्र के कृष्णा महाविद्यालय, कालू का बास के परीक्षा केन्द्र में रीट परीक्षार्थी श्यामवीर जाटव की जगह डमी परीक्षार्थी मिथलेश कुमार परीक्षा देने पहुंचा।डमी परीक्षार्थी मिथलेश कुमार परीक्षा केन्द्र पर पहुंचने पर लेट होने से परीक्षार्थी श्यामवीर परीक्षा देने परीक्षा केन्द्र में पहुंचा जहां पर डमी परीक्षार्थी के प्रवेश प्रत्र में अकिंत रोल नम्बर पर पूर्व से ही परीक्षार्थी बैठा होने पर पुलिस परीक्षार्थी श्यामवीर व डमी परीक्षार्थी मिथलेश कुमार को डिटेन किया गया। उक्त दोनो के साथ नकल में सहयोग हेतु आये हुए करण कुमार, श्यामसुन्दर व सचदेव उर्फ रवि को 01 किलोमीटर पीछा कर पकड़ा गया। इसमें थानाधिकारी थाना कालाडेरा हरवेन्द्र सिंह की विशेष भूमिका रही है। विधिनुसार प्रकरण दर्ज किया गया। इन आरोपियों का विवरण निम्न प्रकार है। पुलिस थाना गोविन्दगढ में डिटेन किये गये डमी परीक्षार्थी।

पुलिस की सतर्कता से परीक्षा में सेंध लगाने के लिए आये श्यामवीर पुत्र गणपत जाटव, निवासी नंगला दादू थाना डीग जिला भरतपुर । एवं मिथलेश कुमार पुत्र विजय चौहान निवासी नारायणपुर थाना एन.टी.पी. औरंगाबाद जिला औंरगाबाद (बिहार) हाल निवासी सासाराम थाना सासाराम जिला रोहताश (बिहार ) एवं करण कुमार पुत्र संतोष कुमार कुशवाह निवासी कोरान सराय थाना कोरान सराय जिला बक्सर (बिहार) हाल कसना थाना कसना जिला गोतम बुध नगर (उत्तर प्रदेश) एवं सचदेव उर्फ रवि पुत्र महेन्द्र सिंह जाटव निवासी बाडोन थाना राया जिला मथुरा (उत्तर प्रदेश) और श्याम सुन्दर पुत्र बबन चंद्रवंशी जाति चंद्रवंशी निवासी वार्ड नम्बर 10 सिसरिता थाना नोखा जिला रोहताश (बिहार) को गिरफ्तार कर लिया।

इसी प्रकार आज दिनाक 26.9.2021 को राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट – 2020) के दौरान थाना मनोहरपुर क्षेत्र के परीक्षा केन्द्र राजकीय धुलेश्वर संस्कृत वरिष्ठ उपाध्याय स्कूल मनोहरपुर थाना मनोहरपुर जिला जयपुर मे निम्नांकित को परीक्षा मे डमी परीक्षार्थी बिठाकर नकल करवाये हुए डिटेन किया गया है, विधिनुसार प्रकरण दर्ज किया गया।

पुलिस थाना मनोहरपुर में डिटेन किये गये डमी परीक्षार्थी प्रकाश पुत्र मोहनलाल विशनोई निवासी कान्दी की ढाणी गुढा मलानी थाना गुढा मलानी जिला बाडमेर एवं कुo सरस्वती पुत्री मोहन लाल विशनोई निवासी अमरापुर बिछावाली थान सरवन जिला जालौर और सरस्वती पत्नि कुलना राम जाति विशनोई निवासी मुख्य आबादी झाकरडा डबोई थाना धोरीमन्ना जिला बाडमेर को गिरफ्तार किया।

पुलिस थाना रेनवाल एवं थाना जोबनेर में एस.आ.जी., राजस्थान की आसूचना के आधार पर की गई निरोधात्मक कार्यवाही स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप, राजस्थान से प्राप्त आसूचना के आधार पर पुलिस थाना रेनवाल, जिला जयपुर ग्रामीण पर रीट परीक्षा 2020 के दौरान परीक्षा से संबंधित अनुचित क्रियाकलाप किये जाने से पूर्व एहतियात तौर पर 02 व्यक्तियों के खिलाफ निरोधात्मक कार्यवाही की गई। विनोद कुमार पुत्र जगदीश प्रसाद, निवासी – डुंगरी कलां, थाना रेनवाल, जिला जयपुर ग्रामीण एवं सागर मल पुत्र अर्जुनलाल, निवासी-डुंगरी कलां थाना रेनवाल, जिला जयपुर ग्रामीण और स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप, राजस्थान से प्राप्त आसूचना के आधार पर पुलिस थाना जोबनेर पर रीट परीक्षा 2020 के दौरान परीक्षा के संबंधित अनुचित क्रियाकलाप किये जाने से पूर्व एहतियात तौर पर 01 व्यक्ति के खिलाफ निरोधात्मक कार्यवाही की गई जिसका नाम यशपाल चौधरी निवासी – भोरीजा, रेनवाल रोड, थाना जोबनेर, जिला जयपुर ग्रामीण।

आपको बता दें कि स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप, राजस्थान से प्राप्त आसूचना के आधार पर पुलिस थाना जोबनेर पर रीट परीक्षा 2020 के दौरान परीक्षा के संबंधित अनुचित क्रियाकलाप किये जाने की आशंका को मध्येनजर रखते हुए “महादेव प्रसाद पुत्र कालूराम जाट निवासी घांसलों की ढाणी, ढाणी नागान, फुलेरा जिला जयपुर ग्रामीण” एवं “मनफूल पुत्र कालूराम जाट निवासी घासलों की ढाणी, ढाणी नागान, फुलेरा जिला जयपुर ग्रामीण” को पूछताछ हेतु थाना जोबनेर पर लाया जाकर हिदायत मुनासिब की गई। थाना क्षेत्र किशनगढ़ रेनवाल में स्थित विभिन्न रीट परीक्षा केन्द्रों के लगभग 19 वीक्षक एवं सहायक वीक्षकों की डयूटी परीक्षा के दौरान अनुचित क्रियाकलाप किये जाने की आशंका को मध्येनजर रखते हुए परीक्षा केन्द्र से हटवाया गया।

  • रिपोर्ट : हेमंत अग्रवाल (राजस्थान ब्यूरो)