शौचालय भी चढ़ गया भ्र्ष्टाचार की भेंट

by shubham

कौशाम्बी: नेवादा विकासखंड अंतर्गत लोधौर ग्राम पंचायत में शौचालय निर्माण योजना में जिम्मेदारों ने जमकर धांधली की है। सरकारी खजाने से जिम्मेदारों ने भारी-भरकम धनराशि निकाल ली है लेकिन लोधौर गांव में बनाए गए शौचालय ग्रामीणों के उपयोग लायक नहीं है। भ्रष्टाचार की भेंट चढ़े शौचालय योजना के भ्रष्टाचार की कई बार शिकायत ग्रामीणों ने की है लेकिन जांच के नाम पर लोधौर गांव के शौचालय योजना के भ्रष्टाचार में जांच अधिकारियों द्वारा बार-बार लीपापोती की जा रही है जो पंचायती राज व्यवस्था पर बड़ा सवाल है।

गांव में शौचालयों की दुर्दशा का यह आलम है कि शौचालय के भवन बनाए जाने में दरवाजे नहीं लगाए गए हैं दीवारों में प्लास्टर नहीं कराए गए हैं रंगाई पुताई नही हुई है। आपूर्ण शौचालयों को पूर्ण दिखाकर सरकारी धन खजाने से जिम्मेदारों ने निकाल लिया है अब सवाल उठता है कि शौचालय योजना से जुड़े अधिकारियों ने इस ग्राम के जिम्मेदारों की कारस्तानी की जांच को कैसे नजरअंदाज कर शौचालय निर्माण पूर्ण दिखाकर पत्रावली को बंद कर दी है।

लोधौर गांव में शौचालय निर्माण में धांधली घोटाले के मामले में ग्राम पंचायत के जिम्मेदारों के साथ साथ खंड विकास कार्यालय के जिम्मेदार और जिला पंचायत राज अधिकारी कार्यालय के जिम्मेदारों की भूमिका सवालों के घेरे में है। इस गांव के शौचालय योजना में हेराफेरी की जांच यदि शासन ने कराई तो ग्राम पंचायत के साथ-साथ ब्लॉक और जिला पंचायत राज विभाग के भ्रष्ट अधिकारियों का भी चेहरा बेनकाब होगा।

रिपोर्ट: श्रीकान्त यादव

Related Posts