कश्मीरी गेट मेट्रो स्टेशन पर अब दो और एस्केलेटरों की मिलेगी सुविधा

नयी दिल्ली। दिल्ली मेट्रो ने मंगलवार को कश्मीरी गेट मेट्रो स्टेशन पर 02 नए एस्केलेटरों सहित 09 मेट्रो स्टेशनों पर 10 अतिरिक्त एस्केलेटरों की शुरूआत की है जिससे यात्रियों के आवागमन की सुविधा हेतु अकेले कश्मीरी गेट स्टेशन पर ही एस्केलेटरों की रिकॉर्ड संख्या कुल 47 हो गई है।

परिचालन में आसान, नवीनतम सॉफ्टवेयर के साथ अपडेट किए हुए इन नए एस्केलेटरों से यात्रियों को, विशेषकर भीड़भाड़ वाली अवधि के दौरान काफी आराम मिल सकेगा।

इसके अलावा जिन स्टेशनों पर अतिरिक्त एस्केलेटरों को चालू किया गया है उनमें रेड लाइन पर रिठाला और ब्लू लाइन पर उत्तम नगर (पूर्व), नवादा, राजौरी गार्डन, शादीपुर, यमुना बैंक, सुभाष नगर और आर. के. आश्रम मार्ग शामिल हैं।

ये भी पढ़ें- रेलवे की ई-कैटरिंग सेवा 25 बड़े स्टेशनों पर होगी शुरू

कश्मीरी गेट दिल्ली मेट्रो नेटवर्क का एकमात्र बहुस्तरीय ट्रिपल इंटरचेंज स्टेशन है जो लाइन-1 (रेड लाइन), लाइन-2 (येलो लाइन) और लाइन-6 (वायलेट लाइन) के बीच इंटरचेंज की सुविधा प्रदान करता है। आज दो और एस्केलेटरों के जुड़ने के साथ, यह भारत का एकमात्र मेट्रो स्टेशन बन गया है, जहां विभिन्न स्तरों पर यात्रियों के आवागमन की सुविधा के लिए अनेक एस्केलेटरों की व्यवस्था है।

इस स्टेशन पर मेट्रो नेटवर्क का सबसे लंबा एस्केलेटर है जिसकी ऊंचाई 14.5 मी. है, इससे बड़ा एस्केलेटर मैजेंटा लाइन पर जनकपुरी पश्चिम पर स्थापित है, जिसकी ऊंचाई 15.6 मी. है। इसके अतिरिक्त, वॉयलेट और रेड लाइन पर इंटरचेंज के लिए छह समानांतर एस्केलेटर हैं, जो संभवतः पूरे विश्व भर की मेट्रो के किसी स्टेशन पर इंजीनियरिंग का एक अनोखा नमूना है।

दिल्ली मेट्रो अपने नेटवर्क के प्रमुख स्टेशनों पर 22 और एस्केलेटर स्थापित करने जा रही है, जिनमें कश्मीरी गेट के पांच एस्केलेटर शामिल हैं, इससे इस स्टेशन पर एस्केलेटरों की कुल संख्या 52 हो जाएगी। इसके अतिरिक्त रेड लाइन पर दिलशाद गार्डन, मानसरोवर पार्क, शाहदरा, सीलमपुर, नेताजी सुभाष प्लेस और इन्द्रलोक,येलो लाइन पर मॉडल टाउन और छतरपुर, ब्लू लाइन पर राजौरी गार्डन, टैगोर गार्डन, झंडेवालान, राजेन्द्र प्लेस, लक्ष्मी नगर और नोएडा सेक्टर-15 और ग्रीन लाइन पर अशोक पार्क मेन स्टेशन है।

ये भी पढ़ें- जेल की हवा खिला सकता है ट्रेन का सफर

यात्री सेवाओं के लिए इन 22 एस्केलेटरों को स्थापित करके इन्हें अगले पांच छह महीने में शुरू कर दिया जाएगा। कुछ प्रमुख स्टेशनों जैसे आदर्श नगर, कीर्ति नगर, नोएडा सेक्टर-16, वैशाली, मुंडका में भी मार्च, 2022 तक 32 और एस्केलेटर स्थापित करने की योजना है।

फिलहाल, दिल्ली मेट्रो के दिल्ली-राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र नेटवर्क पर 389 कि.मी. के क्षेत्र में 285 स्टेशनों पर 1100 से अधिक एस्केलेटर स्थापित और चालू हैं।

इन्पुट- यूनीवार्ता