लखनऊ : वैश्विक महामारी ने पूरी जिंदगी को बदल कर रख दिया है। इस काल में बहुत से लोग समय का शिकार हुए हैं। इस वैश्विक महामारी के दौरान कई सामाजिक संगठन एवं राजनेता गरीबों एवं जरूरतमंदों के लिए दिन-रात सेवा में लगे हुए हैं। जैसा कि लखनऊ में भारतीय जनता पार्टी के अनुषांगिक संगठन भारतीय श्रमिक कामगार कर्मचारी महासंघ के लखनऊ जिला अध्यक्ष इस कोरोना काल में भी गरीबों के लिए मददगार बने हुए हैं। अजय पांडे लगातार खाना वितरण कर लोगों के दिल में एक अलग पहचान बना रहे हैं। साथ ही जिलाध्यक्ष  के इस  कार्य की क्षेत्र में काफी सराहना भी की जा रही है।

वार्तालाप के दौरान अजय पांडे ने मीडिया से रूबरू होते हुए कहा कि जरूरतमंद उन्हें राजनेता नहीं बल्कि अपना छोटा भाई समझ कर अपनी समस्या जरूर बताएं। ताकि वह जरूरतमंदों की मदद कर सकें। अजय पांडे ने कहा कि इस काल में बहुत से लोगों पर दुखों का पहाड़ टूटा है। किसी के सर से माता पिता का साया छीना तो किसी माता-पिता का बेटा इस महामारी ने उनसे दूर कर दिया। तो कई लोगों का रोजगार कम हो गया है। महामारी के काल में किसी को भी परेशानी ना हो इसलिए उत्तर प्रदेश सरकार एवं हमारा संगठन बराबर इसी कोशिश एवं कार्य में लगा रहता है कि किसी भी व्यक्ति को इस दौरान कठिनाइयों का सामना ना करना पड़े।

अजय पांडे ने मीडिया से वार्तालाप करते हुए कहां की उत्तर प्रदेश सरकार प्रदेशवासियों के हित में दिन-रात कार्य कर रही है। और वही हमारे प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ भी हर जरूरतमंद के लिए नई योजनाओं के तहत उनको रोजगार देने का प्रयास कर रहे हैं। और यह साबित भी हुआ है कि उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सबसे ज्यादा कोरोना काल में लोगों को रोजगार दिया गया है। हमें कहते हुए गर्व है कि हमारे प्रदेश की बागडोर ऐसे नेक हाथों में है कि उन्होंने दिन रात एक कर इस वैश्विक महामारी में भी लोगों को रोजगार प्रदान किया और हर एक प्रदेश वासी का ख्याल रखा। और मेरा कर्तव्य है कि हम हर जरूरतमंद की मदद के लिए सदैव तैयार है।

अजय पांडे ने कहा कि हमारे संगठन के मुखिया सर्वेश पाठक द्वारा पार्टी के सभी पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं को निर्देश दिया गया है कि इस दौरान वह सभी जरूरतमंदों कि मदद कर अपने कर्तव्य का पालन करें। और इसी सोच के साथ हम हर जरूरतमंद की मदद करके अपने कर्तव्य का पालन कर रहे हैं। इस मौके पर जिला महामंत्री अमित पांडे मंडल अध्यक्ष आशु राजपूत एवं संगठन के सभी कार्यकर्ता मौजूद रहे।